जासं, एटा : भाजपा ने सदर विधानसभा क्षेत्र से विपिन वर्मा डेविड और अलीगंज सीट से सत्यपाल सिंह राठौर को प्रत्याशी बनाया है। दोनों ही इस समय विधायक हैं। मारहरा और जलेसर विधानसभा क्षेत्रों के भाजपा प्रत्याशियों की घोषणा होना अभी बाकी है। तीसरे चरण के लिए पार्टी द्वारा घोषित किए उम्मीदवारों की सूची में एटा जनपद के सिर्फ दो प्रत्याशियों के नाम ही हैं।

भाजपाइयों को सूची का काफी समय से इंतजार था, अंतत: वह शुक्रवार शाम जारी कर दी गई। सदर विधानसभा क्षेत्र से विपिन वर्मा डेविड 2017 में चुनाव जीते थे। उन्होंने समाजवादी पार्टी के जुगेंद्र सिंह यादव को हराया था। उस समय डेविड को 82518 तथा जुगेंद्र को 61387 वोट मिले थे, जबकि अलीगंज में भाजपा के सत्यपाल राठौर ने सपा के रामेश्वर सिंह यादव को हराया था। सत्यपाल को 88695 वोट मिले, जबकि रामेश्वर को 74844 वोट प्राप्त हुए थे। सदर और अलीगंज दोनों सीटों पर भाजपा ने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। इससे पहले टिकटों को लेकर तमाम तरह की अटकलें लगाईं जा रहीं थीं, लेकिन तीसरे चरण की सूची में नाम आने के बाद इन अटकलों को विराम लग गया। अब मारहरा और जलेसर विधानसभा सीटों पर प्रत्याशियों की घोषणा का इंतजार किया जा रहा है। जिले में अब तक तीन पार्टियों के चार प्रत्याशियों की अधिकृत घोषणा हो चुकी है। बसपा ने जलेसर से आकाश जाटव और कांग्रेस ने सदर सीट से गुंजन मिश्रा को पहले ही प्रत्याशी घोषित कर दिया था। सदर सीट पर इस तरह से भाजपा और कांग्रेस ने अपने पत्ते खोल दिए हैं, अभी सपा और बसपा के प्रत्याशियों की घोषणा इस सीट पर बाकी है, जबकि अलीगंज में सपा, बसपा और कांग्रेस के प्रत्याशियों के नाम आना शेष हैं। इसी तरह से जलेसर में भाजपा, कांग्रेस और सपा तथा मारहरा में भाजपा, कांग्रेस, सपा, बसपा के प्रत्याशियों की घोषणा होना शेष है।

Edited By: Jagran