देवरिया : थाना क्षेत्र के ग्राम सभा गौरकोठी के सिन्हा टोला निवासी मैनेजर प्रसाद 30 पुत्र रघु प्रसाद की मंगलवार को पटनवा पुल के समीप स्नान करते समय नदी में डूबने से मौत हो गई। मैनेजर प्रसाद सुबह अपने साढू मुन्नी लाल प्रसाद निवासी मठियां टोला रंदे थान विजयीपुर के साथ उनकी पत्नी को ससुराल से बुलाने के लिए घर से निकला। मैनेजर आटो चला कर अपना जीवन यापन करता था । साधन घर का था, इसलिए गांव से अपने दो मित्रों और साढू को लेकर ससुराल डुमरी पहुंचा। ससुराल में खूब आव भगत हुई । मुन्नी लाल ने पत्नी की विदाई की बात रखी तो सास एक सप्ताह बाद विदाई करने की बात कहीं । इसके बाद सभी लोग आटो से सिन्हा टोला के लिए चल दिए । पटनवा पुल के पास पहुंचते ही मैनेजर प्रसाद के मन में नदी में नहाने की प्रबल इच्छा जागृत हो गई। वह अपने मित्रों व साढू के मना करने के बाद भी अपने को रोक नहीं पाया। साढू मुन्नी लाल नहाने को तैयार नहीं हुआ और दोनों मित्रों के साथ मैनेजर स्नान करने के लिए नदी में कूद पड़ा । तीनों मित्र आगे बढ़ कर नहाने की शर्त लगा कर डूबकी लगाने लगे । इसी दौरान मैनेजर प्रसाद गहरे पानी में चला गया और डूबने लगा । यह देख किनारे बैठा मुन्नी लाल लोगों से बचाने की गुहार लगाने लगा, लेकिन मैनेजर को डूबते देख दोनों मित्र उसे बचाने के बजाए नदी से निकल कर खिसक गए। अन्य लोगों के सहयोग से मैनेजर को पानी से बाहर निकाला गया । आनन-फानन रामपुर कारखाना पुलिस व ग्रामीणों ने मैनेजर को सदर अस्पताल भेजा, जहां चिकित्सकों ने मैनेजर को मृत घोषित कर दिया । इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया।

Posted By: Jagran