देवरिया: पुलिस अधीक्षक डा. श्रीपति मिश्र ने गुरुवार की रात रामपुर कारखाना थाना का औचक निरीक्षण किया। थाना परिसर, बैरक, भोजनालय, कार्यालय आदि का हाल जाना। उन्होंने कहा कि पीड़ित काफी उम्मीद के साथ थाना आते हैं। उनके साथ थाना में बेहतर ढंग से पेश आएं। अच्छा व्यवहार करें और उनकी समस्या का समाधान करें। प्रार्थना-पत्रों पर त्वरित कार्रवाई करें।

पुलिस अधीक्षक ने कहा कि शिकायतें लंबित नहीं रहनी चाहिए। ड्यूटी के प्रति लापरवाही ठीक नहीं है। कार्यालय का निरीक्षण और पुलिसकर्मियों से अभिलेखों के संबंध में जानकारी ली। उनके रखरखाव के लिए निर्देश दिए। भोजनालय में बन रहे भोजन का टेस्ट किया। उन्होंने कहा कि रसोई घर हमेशा साफ-सुथरा रहना चाहिए। महिला हेल्प डेस्क पर आए शिकायती पत्रों व उसके निस्तारण के बारे में एसपी ने महिला सिपाही से जानकारी ली। कहा कि रात में पिकेट प्वाइंट व सार्वजनिक स्थानों पर सिपाहियों की ड्यूटी को थानाध्यक्ष चेक करें। ड्यूटी से लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ सख्ती से पेश आएं। कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त रखने के लिए क्षेत्र में मजबूत पकड़ बनाएं। जिससे सूचनाएं मिलती रहें।

मनीष गुप्ता की हत्या को लेकर व्यापारियों में उबाल

गोरखपुर में कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हुई हत्या को लेकर व्यापारियों में उबाल है। शुक्रवार की देर शाम सुभाष चौक पर जनपद व्यापार मंडल देवरिया एवं वैश्य समाज के संयुक्त तत्वावधान में कैंडल मार्च निकालकर आरोपितों की गिरफ्तारी व सीबीआइ जांच की मांग की गई। व्यापारियों ने कहा कि मनीष के साथ हुई घटना निदनीय है। इस मामले में बर्बरता करने वाले आरोपितों के खिलाफ कठोर कार्रवाई होनी चाहिए। इसके साथ ही स्वजन को पचास लाख रुपये की आर्थिक सहायता भी सरकार दे। आरोपित पुलिस कर्मियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई तो आंदोलन करने को बाध्य होंगे। इस दौरान जनपद व्यापार मंडल के अध्यक्ष अखिलेश जायसवाल, वैश्य समाज के अध्यक्ष अटल बरनवाल, जीवन लाल बरनवाल, अजय नांगलिया, दीपू जयसवाल, रमेश वर्मा, बैजनाथ, सोनी, राजकुमार जायसवाल, विजय पटेल, संतोष गुप्ता, आशीष बरनवाल मौजूद रहे।

Edited By: Jagran