देवरिया: यूपी बोर्ड परीक्षा में नकल का खेल चोरी-छिपे जारी है। इस पर शिकंजा कसने के लिए जिला प्रशासन दवाब बना रहा है। गुरुवार को द्वितीय पाली में इंटर भौतिक विज्ञान प्रश्नपत्र में पांच नकलची पकड़े गए। वहीं हाईस्कूल व इंटर में अबतक कुल 40 नकलची पकड़े गए हैं, इसमें करीब एक दर्जन मुन्ना भाई शामिल है।

गुरुवार को द्वितीय पाली में इंटर भौतिक विज्ञान की परीक्षा चल रही थी। परीक्षा को नकल विहीन कराने के लिए पांच टीमें गठित की गई हैं, लेकिन कई सचल दलों के हाथ नकलची नहीं लग रहे हैं। गुरुवार को सचल दल चार के प्रभारी पीके शर्मा ने दुर्गाजी इंटर कालेज सोहनरिया में एक नकलची को पकड़कर रस्टीकेट कर दिया। अनंत इंटर कालेज सतरांव, मो. हुसैन इंटर कालेज नवलपुर, अंबिका इंटर कालेज बलुआ अफगान व हर्षचंद्र इंटर कालेज बरहज में एक-एक नकलची पकड़े गए।

------------------

विद्यालय को डिबार सूची में डालने की भेजी संस्तुति

देवरिया: नकल के खेल में लगे किसान इंटर कालेज नारायनपुर बंजरिया के केंद्र व्यवस्थापक पर शिकंजा कसने के बाद अब इस विद्यालय को डिबार करने की तैयारी है। जिला विद्यालय निरीक्षक शिव चंद राम ने बोर्ड को पत्र लिखकर डिबार सूची में शामिल करने के लिए संस्तुति की है। वहीं केंद्र व्यवस्थापक महेश यादव पर मुकदमा दर्ज कराने के बाद उन्हें हटा दिया गया है। उनकी जगह पर राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मलघोट बिलइचा के प्रधानाचार्य सुभाष यादव को केंद्र व्यवस्थापक बनाया गया है। जबकि उसी विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक हरिश्चंद्र यादव को अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक बनाया गया है। इस विद्यालय में 13 फरवरी को अलग कमरे में उत्तर पुस्तिकाएं लिखवाने का कार्य किया जा रहा था। जिला विद्यालय निरीक्षक शिवचंद राम की छापेमारी में एक ही रोल नंबर की दो उत्तर पुस्तिकाएं बरामद हुईं।

------------

By Jagran