देवरिया : बनकटा थाना क्षेत्र के बौलिया पांडेय के परिषदीय विद्यालय के मध्याह्न भोजन में जहरीला पदार्थ मिलाने के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। पुलिस की जांच में भोजन में जहरीला पदार्थ प्रधानाध्यापक मिलाया तो साजिश में ग्राम प्रधान भी शामिल रहे। रविवार को ग्राम प्रधान को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जबकि फरार प्रधानाध्यापक की गिरफ्तारी में पुलिस जुटी हुई है। जल्द ही गिरफ्तार कर लेने का दावा कर रही है।

17 जुलाई को विद्यालय में भोजन बना हुआ था। कुछ बच्चे भोजन कर चुके थे तो कुछ करने वाले थे। इस बीच कुछ लोगों ने मध्याह्न भोजन में जहरीला पदार्थ मिलने की बात कह दी और एक कक्षा आठ की छात्रा पर यह आरोप भी लगा दिया गया। छात्रा लाख सफाई दी, लेकिन इसके बाद भी आरोप से उसे विद्यालय प्रशासन बरी नहीं किया और छात्रा गिरफ्तार कर ली गई। पुलिस की जांच में छात्रा बेगुनाह मिली और पुलिस की विवेचना में उसे बरी कर दिया गया। पुलिस की जांच में अब नया मोड़ आ गया है। पुलिस की जांच में रसोइया ने अपने बयान में सभी बात सामने ला दी है। जांच में प्रधानाध्यापक द्वारा जहरीला पदार्थ मिलाने की बात प्रकाश में आई है तो साजिश में ग्राम प्रधान इंद्रासन यादव शामिल हैं। इस बाबत थानाध्यक्ष देवेंद्र ¨सह यादव ने कहा कि साजिश करने वाले ग्राम प्रधान को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि फरार प्रधानाध्यापक को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। दबाव बनाने को रची थी यह साजिश

देवरिया: बनकटा थाना क्षेत्र के बौलिया पांडेय के परिषदीय विद्यालय के मध्याह्न भोजन में जहरीला पदार्थ मिलाने की साजिश छात्रा के परिजनों पर दबाव बनाने के लिए रची गई थी। थानाध्यक्ष देवेंद्र ¨सह यादव का कहना है कि जिस छात्रा पर आरोप लगाया गया, उसके भाई की अप्रैल माह में विद्यालय परिसर में ही हत्या हो गई थी। उस मामले में मुकदमा दर्ज है। साथ ही छात्रा के पिता ने न्यायालय में ग्राम प्रधान व प्रधानाध्यापक पर भी मुकदमा दर्ज कराने के लिए प्रार्थना पत्र दिया था। प्रधान व प्रधानाध्यापक का नाम उसमें शामिल न हो और परिजनों पर दबाव बने, इसलिए यह पूरी साजिश रची गई थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस