देवरिया : कोरोना महामारी से निपटने के लिए जिला प्रशासन ने विकास भवन व कलेक्ट्रेट सभागार में कंट्रोल रूम स्थापित किया है। मंगलवार को लोगों ने कोटेदार द्वारा राशन नहीं देने, दवा कराने जाने तथा गेहूं कटवाने जाने के लिए फोन किए। इस दौरान 160 लोगों ने विभिन्न समस्याओं को लेकर फोन किए।

विकास भवन कंट्रोल रूम में 70 फोन आए। रुद्रपुर के पतझड़ी निवासी शिवप्रकाश ने फोन किया कोटेदार द्वारा यूनिट के अनुसार राशन नहीं दिया जा रहा है। पथरदेवा के मैनुद्दीन निवासी बदरे आलम, परिसिया छितही सिंह के प्रेमचंद गुप्ता, रामपुर खुरहुरिया के शिवम कुमार तिवारी ने कोटेदार द्वारा लोगों को राशन नहीं दिया जा रहा है। संबंधित पूर्ति निरीक्षकों को निर्देश दिया गया। साकेत नगर के बालमुकुंद उपाध्याय सैनिटाइजर बना रहे हैं। आपूर्ति करना चाहते हैं। इस दौरान एसडीएम सुनील कुमार सिंह, संतोष वर्मा, अनित कुमार, राजकुमार पांडेय आदि मौजूद रहे।

कलेक्ट्रेट सभागार कंट्रोल रूम में कुल 90 फोन आए। इसमें भाटपारानी के अरविद ने फोन किया कि 12 दिन से आइसोलेशन सेंटर में रहते हो गया। मैं घर जाना चाहता हूं। भाटपाररानी के श्याम प्रसाद गोंड ने कहा कि कोटेदार राशन पर प्रति किग्रा एक रुपये अधिक ले रहा है। देवरिया के महिद्र नाथ त्रिपाठी ने फोन किया मैं सिद्धार्थनगर में हूं। गेहूं कटवाने घर जाना है। भागलपुर के सनोज साहनी ने दवा कराने के लिए गोरखपुर के लिए पास के लिए फोन किया। इस दौरान सीआरओ व प्रभारी अमृत लाल बिद, जिला समाज कल्याण अधिकारी रामपाल यादव, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी नीरज अग्रवाल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस