देवरिया: सदर कोतवाली के मोहनीदेई निवासी जालसाज एक लाख 30 हजार रुपये लेने के बाद भी एक बेरोजगार को आबूधाबी नहीं भेजा। साथ ही पैसा मांगने पर जान से मारने की धमकी दी तथा असलहा लहराया। इस मामले में कोतवाली पुलिस ने जालसाज के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। साथ ही आरोपित की गिरफ्तारी में जुट गई है।

मोहनीदेई निवासी गिरिजाशंकर राजभर बेरोजगार है। उसकी मुलाकात गांव के पट्टू राजभर से हुई, उसने सितंबर 2018 में बताया कि वह आबूधाबी भिजवा देगा। उसे आबूधाबी में 80 हजार रुपये प्रत्येक माह मिलेगा। इसके लिए एक लाख 30 हजार रुपये देना होगा। अक्टूबर 2018 में पट्टू को गिरिजा ने रुपये भी दे दिया। इसके बाद पट्टू जल्द ही भिजवा देने की बात कहने लगा, लेकिन विदेश नहीं भिजवाया। जब गिरिजा शंकर ने पैसा मांगना शुरू किया तो जालसाज जान से मारने की नियत से दौड़ा लिया। इस मामले में कोतवाली पुलिस ने पट्टू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। इस बाबत कोतवाल अरुण मौर्या ने कहा कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। छानबीन की जा रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप