देवरिया: जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्र के उपायुक्त एसके मिश्र ने बताया कि भारत सरकार से प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम वर्ष 2017-18 में संशोधित लक्ष्य प्राप्त हुआ है। उद्योग श्रेणी में अधिकतम 25 लाख एवं सेवा क्षेत्र के लिए 10 लाख रुपये तक के प्रोजेक्ट पर ऋण उपलब्ध कराना है। सामान्य श्रेणी के व्यक्तियों को प्रोजेक्ट कास्ट का 10 फीसद व अनुसूचित जाति/जनजाति, महिला, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग, विकलांग, भूतपूर्व सैनिक को प्रोजेक्ट कास्ट का पांच फीसद निजी अंशदान लगाना होगा। शहरी क्षेत्र में सामान्य श्रेणी के व्यक्तियों को 15 फीसद व ग्रामीण क्षेत्र में 25 फीसद अन्य श्रेणी जैसे अनुसूचित जाति/जनजाति, महिला, अल्पसंख्यक, विछड़ा वर्ग, विकलांग, भूतपूर्व सैनिक को शहर में 25 फीसद व ग्रामीण में 35 फीसद का उपादान अनुमन्य है। आवेदन विभाग की वेबसाइट पर पांच अक्टूबर तक आनलाइन करना होगा। इसके बाद आवेदन-पत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप