देवरिया : जिला पंचायत बोर्ड की शनिवार को हुई बैठक हंगामेदार रही। जनप्रतिनिधियों के प्रस्ताव को खास तवज्जो देने व जिला पंचायत सदस्यों के प्रस्ताव की उपेक्षा के अलावा भाटपाररानी के परोहा गांव के विकास कार्यों की जांच न करने का मुद्दा छाया रहा। सीडीओ राजेश कुमार त्यागी ने परोहा गांव के विकास कार्यों की जांच एसडीएम भाटपाररानी के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा कराने का आश्वासन दिया गया। शोर-शराबे के बीच वित्तीय वर्ष 2017-18 का 44 करोड़ छह लाख आठ हजार का पुनरीक्षण बजट व वित्तीय वर्ष 2018-19 का 43.50 करोड़ 36 हजार रुपये का प्रस्तावित (मूल) बजट पास हुआ।

जिला पंचायत अध्यक्ष रामप्रवेश यादव ने कहा कि बिना किसी भेदभाव के विकास कार्य कराए जाएं, जिससे उनका लाभ समाज के हर वर्ग को मिल सके। इसके लिए सभी सदस्य अपने-अपने क्षेत्र की योजनाओं का प्रस्ताव बनाएं। उन्होंने कहा कि जिला पंचायत सदस्य अपने क्षेत्र से जनता द्वारा निर्वाचित होते हैं जो उनका प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए उसे क्षेत्र की जनता की समस्याओं को देखते हुए विकास कार्य कराने होते हैं। सभी सदस्यों को समान रूप से कार्यों की स्वीकृति दी जाएगी। सदस्यों ने प्रस्ताव दिया कि जिला पंचायत में जिला पंचायत सदस्यों के अलावा अन्य किसी जनप्रतिनिधि का प्रस्ताव न लिया जाए। उनके माध्यम से उनके क्षेत्र के विकास कार्यों को कराए जाएं। जल निगम के कार्य मानक अनुरूप व लंबित कार्य न कराने की शिकायत पर अधिशासी अभियंता जल निगम को निर्देशित किया गया। सदस्यों ने शिकायत किया कि पीएचसी व सीएचसी पर डाक्टर उपस्थित नहीं रहते हैं। जिससे मरीजों को उपचार नहीं मिल पाता। सीएचसी एकौना, चकिया कोठी व डुमरी आदि अस्पतालों पर सदस्यों ने पानी व बाउंड्रीवाल टूटने आदि के संबंध में अवगत कराया गया। सीएमओ डा.रामनिवास ने तत्काल कार्रवाई के लिए आश्वस्त किया। पीडी रवि शंकर राय ने वनटांगिया व मुसहर जाति के पात्र व्यक्तियों को चिह्नित कर मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत आवास उपलब्ध कराए जाएंगे। सदस्य अपने-अपने क्षेत्रों से प्रस्ताव उपलब्ध करा दें। राशन कार्ड में पात्रों के छूटने के सवाल पर डीएसओ ने बताया कि यदि कहीं कोई छूट गया है तो पुन: उसकी जांच कर पात्रता सूची मे जोड़ा जाएगा। छुट्टा पशुओं को काबू करने, भूमि पर अनाधिकृत कब्जा, कृषि विभाग द्वारा किए गए कार्य, बीज के सही न होने से किसान को नुकसान उठाने, सोलर लाइट बाजार में लगवाने, संपर्क मार्गों का मानक के अनुरूप निर्माण न होने की शिकायत की गई। बैठक में विधायक सदर जन्मेजय ¨सह, रामपुर कारखाना विधायक कमलेश शुक्ल व सलेमपुर विधायक काली प्रसाद के अलावा सीआरओ मनोज कुमार, अपर मुख्य अधिकारी ज्ञानधन ¨सह, जिपंस धर्मेंद्र ¨सह, कृष्णमणि तिवारी, कृपाशंकर उपाध्याय, सत्यदेव यादव, मुकुल ¨सह, रविप्रताप ¨सह, निर्भय यादव, दयाशंकर कुशवाहा, रामप्रकाश यादव आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप