देवरिया : एडी गोरखपुर डा.पुष्कर आनंद बुधवार को सीएमओ कार्यालय पहुंचे और शहर के एक प्राइवेट अस्पताल से बरामद सरकारी दवाओं के बरामदगी व कार्रवाई के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कौन-कौन सी दवाएं बरामद हुई हैं? अब तक क्या कार्रवाई हुई है? इसके बारे में सीएमओ डा.धीरेंद्र कुमार से पूछा। सीएमओ ने सारी जानकारी उपलब्ध कराते हुए बरामद दवाओं के बारे में बताया और कहा कि इसमें संलिप्त फार्मासिस्ट को निलंबित कर दिया गया है। जिस प्राइवेट अस्पताल में सरकारी दवाएं मिली उसका पंजीकरण रद्द कर दिया गया है। इसके अलावा मुकदमें की कार्रवाई चल रही है।

एडी ने कहा कि स्वयं सीएचसी व पीएचसी को चेक कीजिए कहीं भी गड़बड़ी मिले तो सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। यह मामला गंभीर है। यहां से वह जिला अस्पताल पहुंचे और सीएमएस कक्ष में डाक्टरों की उपस्थिति पंजिका देखी, जिसमें दो डाक्टरों की हाजिरी नहीं लगी थी। इस पर बताया गया कि बायोमेट्रिक हाजिरी दोनों लोगों ने लगाई है। वार्ड में राउंड ले रहे हैं। यहां से वह एआरटी सेंटर पहुंचे जहां डा.एसएस द्विवेदी से जानकारी ली। मरीजों से भी वह बात कर उनका हाल चाल और परेशानी के बारे में पूछे। यहां से वह बाल पोषण पुनर्वास केंद्र पहुंचे और कुपोषित बच्चों के बारे में जानकारी लिए। भर्ती मरीजों के अभिभावकों से पूछा यहां कोई परेशानी तो नहीं है। कक्ष में एसी लगवाने का उन्होंने निर्देश दिया। यहां मुख्य रूप से प्रभारी सीएमएस डा.एचसी सिंह, डा.आरके श्रीवास्तव, डा.जफर अनीश, राधेश्याम राय, अशोक राय, डा.काशीनाथ, बलराम यादव, उमेश मिश्र, तेजभान, रामेश्वर पांडेय, चंद्र प्रकाश पांडेय आदि मौजूद रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस