देवरिया:

महिला उत्पीड़न की हर घटनाओं को गंभीरता से लें। मौके पर जाएं और उसकी वास्तविकता जांच कर त्वरित कार्रवाई करें। थानों पर फरियाद लेकर आने वाली महिलाओं की समस्याओं को गंभीरता से सुने और निस्तारण करें। महिलाओं की फरियाद में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

यह बातें पुलिस अधीक्षक डा.श्रीपति मिश्र ने पुलिस लाइन के मनोरंजन गृह में रविवार को आयोजित अपराध संगोष्ठी में कही। उन्होंने कहा कि ठंड का समय शुरू हो गया है। इस मौसम में शहर व कस्बा में पुलिस गश्त बढ़ा दी जाए। दुकानदारों से दुकान के सामने लाइट लगाने की भी बात कही जाए। अपराध पर अंकुश लगाने के लिए अपराधियों पर निरोधात्मक कार्रवाई की जरूरत है। हत्या, लूट व चोरी की घटनाओं के पर्दाफाश पर थानेदार ज्यादा जोर दें और उसका जल्द से जल्द पर्दाफाश करें।

विवेचनाओं के निस्तारण, पुराने मामलों के निस्तारण, जन शिकायत द्वारा प्राप्त शिकायतों के भी निस्तारण पर एसपी ने जोर दिया। शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में शाम को पैदल गश्त किया जाए, साथ ही बैंकों की चेकिग नियमित की जाए। बैठक को एएसपी शिष्यपाल, सीओ सीताराम, सीओ लाइन निष्ठा उपाध्याय, सीओ बरहज अंबिका राम, दिनेश कुमार यादव, वरुण मिश्रा, शहर कोतवाल अरुण मौर्या, श्याम लाल यादव, विनय सिंह, प्रधान लिपिक भुनेश राय, वाचक सारनाथ सिंह, पीआरओ नवीन चौधरी प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस