जागरण संवाददाता, देवरिया:

गांवों के विकास को गति देने के लिए क्लस्टर के हिसाब से ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारी की तैनाती होनी है। प्रशासन की ओर से पहल शुरू कर दी गई है। बेहतर कार्य करने वाले सचिवों को मनचाहे क्लस्टर में तैनाती की सुविधा मिलेगी। उनकी रैंकिग जिला मुख्यालय पर तैयार होने लगी है। विधानसभा चुनाव के बाद इनकी तैनाती की जाएगी।

जिले में 1185 ग्राम पंचायतें है। इसमें 325 क्लस्टर बनाए गए हैं। ऐसे तो ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारी की संख्या कम है। जिसके चलते कुछ ग्राम पंचायत अधिकारी आठ से दस गांव तो कुछ तीन से चार गांवों की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। नई व्यवस्था में क्लस्टर के हिसाब से तैनाती होगी। उसमें किसी प्रकार की की मनमानी नहीं चलेगी। पहले चरण में सभी सचिवों को चार-चार ग्राम पंचायतें दी जाएंगी।

---------------------------------------

ऐसे तैयार की जाएगी सचिवों की रैंकिग

सचिवों के ग्राम पंचायत में कराए गए कार्य व शिकायतों की भी समीक्षा की जाएगी। जिनका कार्य शौचालय, पंचायत भवन, जल निकासी को लेकर बेहतर होगा, उन्हें विशेष रैंकिग दी जाएगी। रैंकिग के लिए पांच बिदु रखे गए हैं। पांचों बिदुओं पर बेहतर कार्य करने वाले सचिवों को बुलाकर उनको क्लस्टर चुनने की सुविधा दी जाएगी। बचे हुए क्लस्टर में अन्य सचिवों की तैनाती की जाएगी।

----------

क्लस्टर बना लिया गया है। सचिवों के कार्यों की समीक्षा की जा रही है, उसके आधार पर उनकी रैंकिग तैयार की जाएगी। सर्वे के बाद बेहतर रैंकिग वाले सचिवों को मनचाहा क्लस्टर दिया जाएगा।

अविनाश कुमार

डीपीआरओ

Edited By: Jagran