जागरण संवाददाता, देवरिया : जिले में डेंगू के मरीजों के बढ़ने का सिलसिला जारी है। पांच दिनों में डेंगू छह मरीज मिले हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है। हैदराबाद, चेन्नई व गुजरात से लौटे लोग पीड़ित हुए हैं। जिला अस्पताल के डेंगू वार्ड में तीन लोगों का इलाज चल रहा है। तीन अन्य मरीजों का निजी अस्पतालों में भर्ती हैं। तेज बुखार के मरीजों से पीआईसीयू समेत सभी वार्ड फुल हैं। ओपीडी में बुखार के मरीजों की सर्वाधिक भीड़ हो रही है।

मेडिकल कालेज से संबद्ध जिला अस्पताल में डेंगू वार्ड बनाया गया है। जिसमें लीलावती देवी उम्र 60 पत्नी राम केवल, रामगुलाम टोला, देवरिया, 30 वर्षीय शेरू यादव निवासी कर्मटार, भलुअनी, 28 साल की सुनीता, खोराराम देवरिया सदर के अलावा भुजौली कालोनी में पुष्कर मणि त्रिपाठी की 35 वर्षीय पत्नी, रामनाथ देवरिया में मोहन प्रसाद, किरन देवी, पथरदेवा डेंगू से पीड़ित हैं। जिसमें मौजूदा समय में जिला अस्पताल के डेंगू वार्ड में तीन मरीज भर्ती हैं। इसके अलावा कई ऐसे मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज प्राइवेट अस्पतालों में गोरखपुर व लखनऊ में चल रहा है। डेंगू से निपटने के लिए दवाओं का भी अभाव है। जिला अस्पताल में बुखार की दवा तक समाप्त है।

मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य डा. आनंद मोहन वर्मा ने कहा कि डेंगू वार्ड बनाकर उसमें मरीजों को भर्ती कर बेहतर इलाज दिया जा रहा है। बुखार के मरीजों का बेहतर इलाज किया जा रहा है।

-

घूमने गए लोग ला रहे डेंगू

देवरिया: जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों में अधिकांश बाहर से घूमकर आए हैं और वहीं से डेंगू लेकर आए हैं। इनमें लीलावती देवी हैदराबाद, शेरू यादव चेन्नई, सुनीता गुजरात घूमने के लिए गए थे। वहां से घूम कर आने के बाद इन्हें बुखार शूरू हुआ और जांच में डेंगू की पुष्टि हुई।

-

Edited By: Jagran