जागरण संवाददाता, देवरिया : बीटीसी व डीएलएड फेल व अवशेष प्रशिक्षुओं के लिए बैक पेपर शुरू हो गया है। जनपद के सात केंद्रों पर हो रही परीक्षा में बुधवार को 55 प्रशिक्षुओं ने परीक्षा छोड़ दी। जनता इंटर कालेज सोनूघाट में अनुचित साधन का प्रयोग करते हुए एक प्रशिक्षु को पकड़ा गया। जिसे रस्टीकेट किया गया। प्रभारी डायट प्राचार्य ने सभी केंद्रों का निरीक्षण किया। परीक्षा के दौरान केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। बीटीसी प्रशिक्षण 2013, 2014, 2015 एवं डीएलएड प्रशिक्षण 2017,2018, 2019 के प्रशिक्षु जो फेल हो गए हैं या किसी कारणवश परीक्षा नहीं दे सके हैं, उनके लिए बैक पेपर परीक्षा (आंशिक परीक्षा) चल रही है। इसके लिए जनपद में सात केंद्र बनाए गए हैं। सभी केंद्रों को सीसी कैमरे से लैस किया गया है। दो पालियों में परीक्षा संपन्न कराई गई। जिसमें सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक व दोपहर दो से चार बजे तक परीक्षा कराई गई। प्रथम प्रश्न पत्र वर्तमान भारतीय समाज एवं प्रारंभिक शिक्षा तथा द्वितीय प्रश्न पत्र प्रारंभिक शिक्षा के नवीन प्रयास विषय रहा। नामांकित 994 में 55 प्रशिक्षुओं ने परीक्षा छोड़ दी और 939 ने परीक्षा दी। जनता इंटर कालेज सोनूघाट में 166 की जगह 159, जनता इंटर कालेज रामपुर कारखाना में 193 की जगह 187, थापर इंटर कालेज बैतालपुर में 85 की जगह 82, महाराजा अग्रसेन इंटर कालेज में 185 की जगह 173, महाराजा अग्रसेन बालिका में 154 की जगह 142, एसएसबीएल में 171 की जगह 157, गंगा प्रसाद इंटर कालेज मझगांवा में 40 की जगह 39 प्रशिक्षु उपस्थित रहे। प्रभारी डायट प्राचार्य डा.प्रसून कुमार सिंह ने एसएसबीएल इंटर कालेज समेत अन्य केंद्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान सचल दल में शामिल अखिलेश राय, शिव प्रताप सिंह, केंद्राध्यक्ष डा.अजय मणि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran