देवरिया : शहर के देवरिया खास स्थित युग निर्माण सीनियर सेकेंडरी स्कूल सभागार में बुधवार को राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस कार्यशाला का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि कृषि ज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डा. संतोष चतुर्वेदी ने कार्यशाला का शुभारंभ किया। बाल विज्ञानियों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन भी किया।

मुख्य अतिथि ने कहा कि बाल वैज्ञानिकों के इस समागम में नवाचार विधि से प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए मानकों के अनुरुप पर्यावरण पर ध्यान देना होगा। वरिष्ठ विज्ञान संचारक हरदयाल सिंह होरा ने कहा कि ऊर्जा की बचत एवं उपयोग सही मात्रा एवं सही दिशा में हो तो हमारे विज्ञान एवं उससे जुड़े हुए लोगों के लिए मील का पत्थर साबित होगी। पूर्व प्रधान आचार्य शारदा प्रसाद श्रीवास्तव ने कहा कि बाल वैज्ञानिकों में अद्वितीय प्रतिभा है उनके द्वारा प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान मायने नहीं रखता उनकी सोच विज्ञान के प्रति क्या है। यह मायने रखता है। जिले के छह विद्यालयों के दस बाल वैज्ञानिकों ने अपने शोध पत्र प्रस्तुत किए, जिसमें चार प्रोजेक्ट सरस्वती शिशु मंदिर देवरिया के सारस्वत सत्संगी, इशारा पब्लिक स्कूल के जसवीर यादव एवं आदर्श मणि त्रिपाठी, होलि एंजेल्स के अक्षय कुमार को राज्य स्तर के लिए चयन किया गया। प्रतीक्षा सूची में युग निर्माण पब्लिक स्कूल से प्रज्ञा सिंह एवं केके पब्लिक स्कूल भटनी से हनुमंत सहाय, सुरेश शामिल रहे। अध्यक्षता प्रधानाचार्य सच्चिदानंद द्विवेदी तथा संचालन अनिल कुमार त्रिपाठी ने किया। सुमन सिन्हा, शिवेंद्र त्रिपाठी, सागर सिंह की भूमिका महत्वपूर्ण रही। मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथियों के साथ बाल वैज्ञानिकों के प्रति प्रबंधक संगीता पांडेय ने आभार प्रकट किया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस