देवरिया: विकास खंड देसही देवरिया के डुमरी एकलाख में गरीबों के खाद्यान्न को कोटेदार द्वारा बेच देने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में पूर्ति निरीक्षक अनूप शाही ने कोटेदार के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया है।

बुधवार को डुमरी एकलाख के राशन दुकान का अधिकारियों ने सत्यापन किया तो पता चला कि वहां तो राशन वितरण ही नहीं हो रहा है। नोडल अधिकारी विजय शंकर राय ने जांच की। पाया कि कोटेदार ई-पास मशीन से अंगूठा लगवा जा रहा है, लेकिन राशन का वितरण नहीं कर रहा है। जबकि कोटेदार वीरभद्र का कहना था कि हमने खाद्यान्न ही नहीं उठाया है। मामले की जानकारी होने पर पूर्ति निरीक्षक भी पहुंच गए और एसएमआइ से बात की तो पता चला कि 21 मार्च को ही कोटेदार ने खाद्यान्न की उठान की है। इतना ही नहीं, पहले से भी 55 क्विटल गेहूं व 38 क्विटल चावल शेष है। लेकिन मौके पर कुछ नहीं मिला। डीएम के आदेश पर पूर्ति निरीक्षक ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया है। प्रभारी निरीक्षक जयंत सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस