देवरिया: जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में बीएसएफ तैनात रहे जवान अजय रावत की अगस्त में मौत हो गई थी। बुधवार को बीएसएफ जवान के परिजनों ने जिलाधिकारी से मुलाकात की और परिवार के सदस्यों को नौकरी दिलाने के साथ ही आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने की मांग की। जिलाधिकारी अमित किशोर ने शासन को पत्र व्यवहार कर हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया।

मझौलीराज उपनगर के किला चौराहा निवासी अजय रावत बीएसएफ में तैनात थे। जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में ड्यूटी के दौरान 25 अगस्त की सुबह में मौत हो गई थी। बुधवार को जवान की पत्नी मीरा देवी के साथ परिवार के सदस्य कलेक्ट्रेट पहुंचे और जिलाधिकारी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि पूरे परिवार की जिम्मेदारी अजय पर ही थी। उनके निधन से परिवार में रोटी का संकट उत्पन्न हो जाएगा। इसलिए परिवार के दो सदस्यों को नौकरी के साथ ही आर्थिक सहायता भी दी जाए। आप द्वारा 27 अगस्त को भी इस पर आश्वासन दिया गया था, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

Posted By: Jagran