देवरिया: जिला उद्योग बंधु समिति की बैठक रविवार को डीएम के कैंप कार्यालय पर आयोजित हुई, जिसमें डीएम ने उद्योग विभाग की कार्यप्रणाली पर नाराजगी जाहिर की।

उन्होंने उपायुक्त उद्योग को प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम 2017-18 के तहत लंबित ऋण आवेदन पत्रों के स्वीकृति के लिए संबंधित शाखा प्रबंधकों से व्यक्तिगत समन्वय स्थापित करके नियमानुसार निस्तारित कराने का निर्देश दिया, जिससे बेरोजगारों को रोजगार मिल सके। उन्होंने स्पष्ट किया कि जो ऋण आवेदन अभी तक लंबित हैं या निरस्त किए गए हैं। शाखा प्रबंधकों से इसका स्पष्ट कारण अवश्य जान लें। यदि किसी बैंक द्वारा ऋण आवेदन पत्रों को नियम के विपरीत लंबित या निरस्त किया गया है तो उनके विरुद्ध कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

उन्होंने उसरा बाजार औद्योगिक क्षेत्र के भूखंड संख्या सी 15 के ऊपर से गुजरी हाईटेंशन पावरलाइन के पोलों को हटाने के संबंध में की गई कार्रवाई का संज्ञान लेते हुए यूपीएसआइडीसी विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि पोलों को हटवाने के संबंध में तत्काल पत्राचार मेरे माध्यम से कराएं, जिससे लाइन हटाई जा सके व किसी संभावित घटना से बचा जा सके। उन्होंने अधिशासी अभियंता विद्युत को राजकीय औद्योगिक आस्थान में जर्जर विद्युत तारों को बदलवाने के लिए बजट प्राप्ति की कार्रवाई करते हुए विद्युत तारों को बदलवाएं। उन्होंने राजकीय औद्योगिक आस्थान देवरिया की टूटी रोड व नालियों को मरम्मत कराने का निर्देश दिया। उन्होंने राजकीय औद्योगिक आस्थान में संचालित सूर्या एकेडमी को हटवाने व अनधिकृत रूप से अन्य लोगों द्वारा किए गए अतिक्रमण को भी हटवाने का निर्देश दिया। डीएम ने मेसर्स पटेल ट्रे¨डग कंपनी व मेसर्स संदीप आटोमोबाइल्स के प्रकरणों को गंभीरता से लेते हुए जांच पूरी कर अवगत कराने को कहा, ताकि कार्रवाई की जा सके। इस मौके पर पूर्व विधायक र¨वद्र प्रताप मल्ल, उपायुक्त उद्योग एसके मिश्र, जिला उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष शक्ति गुप्ता, जेपी जायसवाल, प्रताप नारायण जायसवाल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप