जागरण संवाददाता, चित्रकूट :

अब चित्रकूट तीर्थ क्षेत्र में श्रद्धालुओं की राह आसान होगी। यहां से प्रतिदिन निकलने वाले सैकड़ों ट्रकों के कारण हो रही दिक्कतें खत्म हो जाएंगी। सतना-चित्रकूट रोड पर रजौला मोड़ से कर्वी तक बाईपास का काम तकरीबन 80 फीसद पूरा हो चुका है। बड़े वाहन भी गुजरने लगे हैं। इससे तीर्थ क्षेत्र में भारी वाहनों की गहमागहमी कम हुई है।

सतना से आने वाले प्रमुख मार्ग चित्रकूट में तीर्थ क्षेत्र से होकर गुजरते हैं। इन पर प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में सीमेंट, गिट्टी और मौरंग लादकर ट्रक निकलते हैं। प्रयागराज, लखनऊ, बांदा, कौशांबी समेत दूसरे जिलों के लिए जाने को यह मार्ग मुफीद है। तीर्थ क्षेत्र में अमावस्या समेत दूसरे विशेष पर्वो पर श्रद्धालुओं को इन ट्रकों से समस्याएं होती थीं। इसको लेकर नो इंट्री शुरू की गई। नो एंट्री के कारण वाहनों का जमावड़े से अक्सर लगने वाले जाम को देखते हुए रजौला बाईपास कर्वी तक निकाला गया। इसमें हनुमानधारा के पास दो पुल बनने में कुछ काम बाकी है। बाकी सड़क निर्माण हो चुका है। इससे बड़ी संख्या में ट्रकों की आवाजाही भी शुरू हो गई है।

----

देवांगना से खोह तक बाईपास जरूरी

रजौला बाईपास से कर्वी होकर गुजरने वाले ट्रकों को अभी कलेक्ट्रेट, एसपी आवास व कार्यालय, कर्वीमाफी गांव के बीच से होकर पटेल तिराहा पर झांसी-मीरजापुर हाईवे पर चढ़ना होता है। इसलिए यहां दिन में नो एंट्री रहती है। बड़े वाहनों की आवाजाही से इस इलाके में भविष्य में दिक्कतें बढ़ेंगी। इसलिए देवांगना से कोलगदहिया होकर सीधे खोह पुलिस के आसपास बाईपास बनना जरूरी है।

--

कर्वी मुख्यालय बाईपास पर भी मंथन

कर्वी जिला मुख्यालय में झांसी-मीरजापुर हाईवे पर प्रतिदिन हजारों बड़े छोटे वाहन गुजरते हैं। मंदाकिनी पुल से लेकर खोह पुलिस लाइंस तक जाम की स्थिति रहती है। तत्कालीन जिलाधिकारी विशाख जी ने दैनिक जागरण के अभियान पर बाईपास का प्रस्ताव शासन भेजा था। इस पर भी जिला प्रशासन पैरवी कर रहा है। इससे निकट भविष्य में बेहतरी आएगी।

----

यह होंगे फायदे

-वाहनों का फंसाव नहीं होने से जाम से मुक्ति।

-पैदल लोगों के लिए हादसों का संकट होगा कम।

-कर्वी मुख्यालय में हाईवे किनारे बढ़ जाएगी रौनक।

-कारोबारियों को व्यापार करने में होगी काफी आसानी। --------

कोट

चित्रकूट को पर्यटन हब के लिहाज से विकसित किया जा रहा है। बाईपास निर्माण को लेकर प्रभावी पैरवी की जा रही है।

-शेषमणि पांडेय, डीएम चित्रकूट

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस