संस, मानिकपुर, (चित्रकूट) :

मानिकपुर पाठा क्षेत्र के जंगल में एक बार फिर तेंदुए को घूमते देखा गया। उसके रिहायशी इलाकों में घुसने से पहले ही वन विभाग की टीम सतर्क हो गई है। टीमें लोगों को जंगल की ओर न जाने और तेंदुए की लोकेशन पर पहुंचने के प्रयास में लगी हुई हैं।

मारकुंडी रेंज के जंगलों में बीते कई दिनों से तेंदुए की मौजूदगी है। सोमवार शाम ग्रामीणों ने मारकुंडी-ददरीमाफी मार्ग पर तेंदुए को देखा। इससे ग्रामीणों में खलबली मच गई। रानीपुर वन्यजीव बिहार के प्रतिपालक जीडी मिश्रा ने बताया, बरसात के मौसम में जंगलों में हरियाली छा जाती है। इस वजह से यहां बाघ और तेंदुआ का आना-जाना बना रहता है। पिछले कई दिनों से मारकुंडी रेंज के कुसमुही, ददरी, किहुनियां व भेड़ा जंगल में बाघ व तेंदुआ के आने जाने की सूचना लगातार मिल रही है। रणनीति के तहत मारकुंडी रेंज के क्षेत्राधिकारी रवि कुमार द्विवेदी, रेंजर रमेश यादव, वन दारोगा अंजनी कुमार, आरके बाबू, उमेश कुमार व वीरेंद्र कुमार जंगल से सटे गांव में ग्रामीणों से जानकारी ली जा रही है और जंगल की ओर न जाने की सलाह दे रहे हैं। इटवा, कल्यानपुर, परासिन बीट के कुसमुही जगलों में तीन टीमें लगाकर सर्चिग की जा रही है। लोगों को भी सतर्क रहने के साथ किसी भी समय बाघ या तेंदुआ दिखने पर अधिकारियों को सूचित करने की अपील की जा रही है।

सड़क हादसों में पांच घायल

जासं, चित्रकूट : जिले में मंगलवार को अलग-अलग सड़क हादसों में पांच लोग घायल हो गए। तीन की हालत गंभीर होने पर प्रयागराज रेफर कर दिया गया। राजापुर थानांतर्गत कस्बा निवासी 22 वर्षीय अखिल तिवारी पुत्र रामानंद चचेरे भाई 18 वर्षीय मोहित के साथ रामघाट जा रहे थे। हनुमानधारा के पास दोनों को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दिया। दोनों को गंभीर हालत में प्रयागराज रेफर कर दिया गया। कर्वी कोतवाली क्षेत्र के खोह में सड़क पार करते समय 33 वर्षीय सुभद्रा देवी पत्नी रामजी वर्मा को कार सवार टक्कर मारकर फरार हो गया। स्वजन उन्हें गंभीर अवस्था में प्रयागराज लेकर चले गए। भरतकूप थानांतर्गत सुनिदपुर के पास सोमवार शाम बाइकों की टक्कर में दो लोग घायल हो गए। पुलिस ने दोनों लोगों को शिवरामपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है।

Edited By: Jagran