जागरण संवाददाता, चित्रकूट : महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो नरेश चंद्र गौतम ने प्रदेश की राज्यपाल व कुलाधिपति आनंदी बेन पटेल से शिक्षा में गुणवत्ता के लिए प्राप्त निर्देश के अनुपालन में शनिवार को विवि अधिकारियों के साथ बैठक की। कहा कि उनके अनुभव रोजगार देने में मददगार हैं। कहा कि शिक्षा के गुणवत्ता मानकों को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा। राज्यपाल का शिक्षा के क्षेत्र में विशेष अनुभव युवाओं को रोजगार देने में काफी लाभदायक होगा। शिक्षक ही विद्यार्थी का अध्ययन काल के दौरान वास्तविक और प्रभावी अभिभावक होता है। ऐसी स्थिति में छात्रों के सर्वांगीण विकास के स्थाई समाधान के प्रयास किए जाने चाहिए। कैंपस में नशा करने पर पांच सौ रुपये अर्थ दंड के रूप में वसूले जाएंगे। रै¨गग जैसी सामाजिक बुराई से विश्वविद्यालय को दूर रखने के लिए अधिकारी काम करें। उन्होंने गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा के वार्षिक रोड मैप को समझाते हुए नियमित कक्षाओं का संचालन, विद्यार्थियों की 80 फीसद उपस्थिति, नवाचार, अनुशासन आदि ग्रामोदय परिवार की विशेषताएं अनिवार्य रूप से यथावत रखने पर जोर दिया। इस दौरान सभी संकाय प्रमुख उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran