औषधि निरीक्षक पर विश्वासघात का मुकदमा, भेजे गए जेल

जागरण संवाददाता, चित्रकूट : औषधि निरीक्षक मनोज कुमार सिंह विश्वासघात के मामले में जेल भेजे गए है उनके खिलाफ कर्वी कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ था। उन पर मेडिकल एजेंसी मालिक से विश्वासघात का आरोप है। यह मामला कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुआ है। बताते हैं कि औषधि निरीक्षक ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की थी, लेकिन रद हो गई थी।

अधिवक्ता प्रदीप कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि नमन मेडिकल एजेंसी एसडीएम कालोनी में 27 जनवरी 2021 को ड्रग इंस्पेक्टर मनोज कुमार सिंह ने छापा मारा था। प्रोपाइटर दीपिका गुप्ता के मुताबिक 1.75 लाख रुपये की दवा भर ले गए थे। आरोप लगाया था कि नौ दिन उसे घर में रखे रहा और अवैध धन की मांग करते रहे। देने से मना करने पर कुछ कीमती दवाएं निकाल कर मालखाना में जमा कर दी थी। न्यायालय में जब दवाएं रिलीज की गई तो कम थी। आयुक्त की जांच में प्रथम दृष्टया औषधि निरीक्षक को दोषी मना था। इसी आधार पर दीपिका गुप्ता ने 156(3) के तहत न्यायालय में प्रार्थना पत्र दिया था। जिस पर कोर्ट ने सात जुलाई 2022 को एफआईआर के आदेश दिए थे। कर्वी कोतवाली प्रभारी अशोक सिंह ने बताया कि औषधि निरीक्षक मनोज कुमार सिंह खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बाद गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Edited By: Jagran