जागरण संवाददाता, चित्रकूट : कामदगिरि परिक्रमा पथ पर अन्ना गाय ने एक महिला की जान ले ली। बंदरों को गाजर खिला रही महिला को गाय ने पीछे से ऐसी टक्कर मारी कि वह दस फीट गहरी खाई में नीचे गिर गई। आनन-फानन परिजन उसको घायल अवस्था में अस्पताल ले गए लेकिन बचाया नहीं जा सका। महिला अपने परिवार के साथ महाराष्ट्र के पुणे से चित्रकूट घूमने आई थी।

महाराष्ट्र के पुणे से किशोरीलाल अपने परिवार और पास पड़ोस के एक दर्जन लोगों के साथ चित्रकूट बुधवार को घूमने आए थे। सभी लोग गुरुवार को दिन में करीब 12 बजे रामघाट निवासी कथा व्यास पुष्पराज के साथ भगवान कामदगिरि की परिक्रमा लगा रहे थे। रास्ते में वह लोग उत्तर प्रदेश सीमा में स्थित साक्षी गोपाल मंदिर से चंद कदम पहले चिकनी मंदिर के पास बंदरों को गाजर खिलाने लगे। 52 वर्षीय रजनी देवी भी बंदरों का गाजर खिलाने में मस्त थी तभी पीछे से एक गाय ने उनकी कमर में जोर से ठोकर मारी। जिससे वह खाई में गिर गई और गंभीर रुप से घायल हो गई। पुष्पराज के मुताबिक आनन-फानन रजनी को लेकर जानकीकुंड अस्पताल पहुंचे लेकिन चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित कर दिया। थाना के उप निरीक्षक कप्तान सिंह बघेल ने बताया कि परिजनों ने पोस्टमार्टम के लिए मना किया था। जिस पर लिखा पढ़ी कर शव सौंप दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस