चित्रकूट, जागरण संवाददाता। सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की बेहतर शिक्षा के लिए उत्तर प्रदेश सरकार मोटी तनख्वाह पर अध्यापन कार्य करने वाले अध्यापकों की भर्ती करती है, ताकि यह नौकरी करते हुए एकाग्रता से बच्चों को अच्छी शिक्षा दें। लेकिन यूपी के चित्रकूट जिले के एक हेडमास्टर का शैक्षिक कार्य में मन नहीं लगा और वो स्कूल छोड़कर भोजपुरी फिल्म की शूटिंग करने चले गए। 

अब जब यह बात सोशल मीडिया पर फैलने के बाद शिक्षा विभाग के अधिकारियों तक पहुंची तो उन्होंने हेडमास्टर के खिलाफ एक्शन ले लिया है। दरअसल, स्कूल छोड़कर एक्टिंग का शौक पूरा करने गए हेडमास्टर एक भोजपुरी फिल्म में दारोगा के किरदार की भूमिका निभा रहे थे।

विभाग ने भेजा कारण बताओ नोटिस

शूटिंग के दौरान ही बनाया गया एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें हेडमास्टर वर्दी में नजर आ रहे हैं और फिल्म के एक्शन सीन करते दिखे। बीते बुधवार को वायरल हुए वीडियो को लेकर इलाके में काफी चर्चाएं हुईं। इसके बाद खंड शिक्षा अधिकारी एनपी सिंह ने वीडियो के संबंद्ध में उक्त हेडमास्टर को कारण बताओ नोटिस भेज दिया है।

दो दिन के अंदर देना होगा जवाब

हेडमास्टर की तैनाती जिले विकासखंड चित्रकूटधाम कर्वी क्षेत्र के रैपुरा माफी ग्राम पंचायत में संचालित प्राथमिक विद्यालय डफाई का पुरवा में है। खंड शिक्षा अधिकारी के अनुसार, वीडियो की जांच करवाई  गई तो सामने आया कि हेडमास्टर देवशरण यादव स्कूल समय में ही फिल्म की शूटिंग करने गए थे। इसके लिए उन्हें दो दिन के अंदर जवाब देने के लिए कहा गया है।

अधिकारियों ने कही यह बात

वहीं, बीएसए लव प्रकाश यादव ने इस संबंध कहा था कि पूरा मामला उनके संज्ञान में आया है। उन्होंने खंड शिक्षाधिकारी से जांच कर रिपोर्ट मांगी है। रिपोर्ट मिलते ही उचित कार्रवाई की जाएगी। बीईओ एनपी सिंह का कहना है कि प्रधानाध्यापक से फोन पर जानकारी ली गई है तो उन्होंने वीडियो को पुराना बताया है।

Edited By: Shivam Yadav