चित्रकूट कार्यालय संवाददाता : नेत्रहीन छात्र ने विश्व कीर्तिमान बनाने के लिये लगातार 12 घंटे तबला बजाकर सबको हैरत में डाल दिया। डूंगरपुर राजस्थान का रहने वाला जगद्गुरु रामभद्राचार्य विकलांग विश्व विद्यालय के संगीत छात्र जोशी कुलदीप ने लिमका बुक व गिनीज बुक में नाम दर्ज कराने की ठान ली, फिर क्या? अपने इस जज्बे को परवान चढ़ाने के लिए शिक्षक गोपाल मिश्रा व मित्र भगवान दीन से सहयोग मांगा। पैरों से विकलांग मित्र भगवानदीन ने हारमोनियम बजाकर साथ देने का भरोसा दिलाया। शिक्षक गोपाल मिश्रा ने विद्यालय प्रशासन को तैयार किया। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बी पांडेय ने जोशी की प्रतिभा को पहचान पूरा सहयोग देने और हर संभव मदद दिलाने की बात कही।

जोशी कुलदीप को सभी का सहयोग मिला और अपने मित्र भगवानदीन के साथ मिल रियाज करना शुरू कर दिया। रविवार की सुबह पांच बजे से ही विद्यालय सभागार में तबला वादन व सोलो सांग का प्रदर्शन शुरू हुआ, जो शाम पांच बजे तक लगातार 12 घंटे तक चला। इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए कुलपति प्रो. बी पांडेय ने कहा कि इनका ट्रायल तीन जून को दिल्ली या जयपुर में होगा जिसमें देश-विदेश के लोग आयेंगे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर