जासं,शहाबगंज( चंदौली ): नौडीहा गांव में सफाई नहीं होने से स्थिति बेहद नारकीय हो गई है। आलम यह कि नालियों से उठ रही दुर्गंध से वातावरण दूषित हो रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि गलियां व नालियां बदहाल होने के पीछे जिम्मेदारों की उदासीनता बड़ी वजह है। गंदे पानी के ओवरफ्लो होने से गली गंदे पानी से सराबोर रहती है। इसके चलते आए दिन लोग फिसल कर घायल हो रहे हैं। समस्या समाधान के लिए कई बार ग्रामीणों ने ब्लॉक अधिकारियों सहित ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधियों के यहां गुहार लगाई। लेकिन नतीजा सिफर ही रहा। कमोवेश यही हालत प्राथमिक विद्यालय का भी है। राज्य वित्त व 14 वां वित्त के खाते में 22 लाख रुपए अभी अवशेष पड़े हैं। धन होने के बाद भी ग्राम पंचायत के राजस्व गांव मचवल प्राथमिक विद्यालय के शौचालय का निर्माण नहीं हो सका है। इससे यहां अध्ययनरत नौनिहालों व शिक्षकों को मुश्किलों से दो-चार होना पड़ रहा है। लोगों का कहना है कि शौचालय निर्माण के लिए धन अवमुक्त हो चुका है। बावजूद इसके निर्माण नहीं कराया जाना समझ से परे है। सबसे ज्यादा मुश्किल विद्यालय में अध्ययनरत बच्चियों को हो रही है। ग्रामीणों ने विद्यालय में शौचालय निर्माण व गलियों नालियों की मरम्मत की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस