जागरण संवाददाता, पीडीडीयू नगर(चंदौली): रेलवे का विकास बीएसएनएल उपभोक्ताओं के लिए घातक साबित होने लगा है। जीटीआर ब्रिज के पास बन रहे अंडरपास पुल कार्य के लिए कर्मी जहां तहां गड्ढे खोद दे रहे हैं। इससे बीएसएनएल का केबल कट जा रहा है। बीते शुक्रवार को भी चार सौ पेयर का केबल कट गया इससे पिछले 48 घंटे से नेटवर्क ध्वस्त है। एक महीने में तीसरी बार केबल कटने से उपभोक्ताओं में आक्रोश है। उधर उपभोक्ताओं की परेशान दूर करने की बजाए भारत संचार निगम लिमिटेड के अधिकारी व कर्मचारी छुट्टियां मना रहे हैं। एसडीओ की मानें तो गड़बड़ी मंगलवार को दुरुस्त की जाएगी। ऐसे में उपभोक्ताओं को अभी रविवार व सोमवार को भी बिना इंटरनेट के ही रहना होगा।

जीटीआर ब्रिज के पास रेलवे की तीसरी लाइन ले जाने के लिए अंडरपास पुल बनवाया जा रहा है। फ्रेड कारिडोर के कर्मी कार्य को करने में लगे हुए हैं। जब से पुल बनाने का कार्य शुरू हुआ है तब से बीएसएनएल उपभोक्ताओं के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है। पुल निर्माण के लिए गड्ढा खोदे जाने के दरम्यान वहां से गुजरा बीएसएनएल का केबल कट जा रहा है। कटे केबल को दुरुस्त करने में कर्मचारियों को तीन से चार दिन का समय लग जाता है। शुक्रवार की दोपहर भी चार सौ पेयर का केबल कट गया है। इस कारण ब्राडबैंड सहित लैंडलाइन की सेवाएं ठप हो गईं। सबसे अधिक परेशानी उपभोक्ताओं को उठानी पड़ रही है। मोबाइल से होने वाले हर कार्य रूक गए हैं। वहीं बैंकों में भी ब्राडबैंड ठप होने से खाताधारकों को समस्या से दो चार होना पड़ रहा है। सरकारी दफ्तर के साथ ही निजी कार्यालयों के कर्मी नेटवर्क न होने से परेशान हो गए हैं। उपभोक्ताओं का कहना है कि पुल निर्माण का कार्य शुरू करने से पहले ही केबल को अन्यत्र कर देना चाहिए था ताकि बार बार केबल न कटे। वर्जन..

पुल निर्माण के दौरान जेसीबी से चार सौ पेयर का केबल कट गया है। मंगलवार तक गड़बड़ी को दूर कर दिया जाएगा।

आनंद प्रकाश मौर्य, एसडीओ, बीएसएनएल

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप