जागरण संवाददाता, चकिया (चंदौली) : कोतवाली के लतीफशाह लेफ्ट कर्मनाशा नहर में नीबीया ढलान के पास बुधवार को नगर के वार्ड 10 निवासी शिवांश प्रजापति (11) का शव मिलने से सनसनी फैल गई। बालक छह दिन पहले घर के बाहर खेलते समय रहस्यमय ढंग से लापता हो गया था। घटना को लेकर लोगो में आक्रोश व्याप्त हो गया। सूचना के बाद पहुंची सीओ रामवीर सिंह व कोतवाल राजेश यादव ने लोगों को समझाकर शांत कराया। पुलिस मृत बालक के पिता की तहरीर पर आधा दर्जन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर घटना की छानबीन में जुटी रही। मोहम्मदाबाद गांव के कुछ लोग लकड़ी बीनने के लिए दोपहर नहर की ओर गए थे। इसी दौरान नहर किनारे झाड़ियों में बालक का शव देख सन्न हो गए। घटनास्थल पर स्वजनों के साथ ही काफी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए। घटना से नाराज लोगों ने जमकर हंगामा किया। सूचना के बाद सीओ व कोतवाल मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों की मदद से बालक के शव को नहर से बाहर निकलवाया गया। मृतक की शिनाख्त शिवांश प्रजापति उर्फ छांगुर (11) के रूप में हुई। मृत बालक के सिर व शरीर पर चोट के निशान थे। इससे बालक का अपहरण कर हत्या किए जाने की आशंका जताई जा रही है। बालक 20 जनवरी को लापता हो गया था। उसके पिता महेंद्र प्रजापति ने 21 जनवरी को तहरीर देकर पुलिस को सूचना दी थी। हालांकि पुलिस सुराग नहीं लगा सकी। पिता की तहरीर पर पुलिस ने आधा दर्जन लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन सुखराम भारती ने घटनास्थल का जायजा लिया। कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट व जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran