जासं, बरहनी (चंदौली) : प्राथमिक विद्यालय रामपुर की छत जर्जर होने व आए दिन चप्पड़ गिरने दुर्घटना की आशंका बनी हुई है। हालांकि भवन में बच्चे नहीं पढ़ते लेकिन परिसर में बच्चों के खेलने से घायल होने का खतरा बना रहता है। कमोवेश यही हाल विकास क्षेत्र के एक दर्जन और विद्यालयों का है।

प्राथमिक विद्यालय का निर्माण 1956 में कराया गया था। पुराना भवन होने के कारण दीवारें व छत पूरी तरह जर्जर हो गए हैं। बच्चे एकीकृत विद्यालय भवन में पढ़ते हैं। पूर्व में भवन में प्रधानाध्यापक सहित शिक्षकों का कार्यालय चलता था। चप्पड़ गिरने से शिक्षक दो बार घायल होने से बच गये। उसके बाद से भवन में ताला बंद कर दिया गया। प्रधानाध्यापक बलराम पाठक ने खंड शिक्षा अधिकारी को इसकी जानकारी दी है। बीईओ राकेश सिंह ने कहा जर्जर भवनों की सूची तैयार की गई है। कार्ययोजना बनाकर पंचायत द्वारा मरम्मत कराई जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस