जागरण संवाददाता, चंदौली : कोरोना काल में जिले में विकास का पहिया काफी धीमी गति से घूम रहा है। जिले में बड़ी परियोजनाओं के निर्माण की गति काफी धीमी है। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान सुस्ती पर नाराजगी जताई। वहीं जल्द निर्माण पूरा कराकर भवनों को हैंडओवर करने की हिदायत दी। उन्होंने बैठक में अनुपस्थित सीएनडीएस व पैकफेड के परियोजना प्रबंधकों को नोटिस जारी करने का निर्देश दिया।

कार्यदायी संस्था सीएनडीएस की ओर से धानापुर में पालीटेक्निक कालेज का निर्माण कराया जा रहा है। हालांकि अभी निर्माण अधूरा है। कार्यदायी संस्था ने इन दिनों काम भी बंद कर दिया है। समीक्षा बैठक में प्रोजेक्टर मैनेजर ने अपने स्थान पर किसी प्रतिनिधि को भेज दिया था। इसी तरह पैकफेड के प्रोजेक्ट मैनेजर भी गायब रहे। इस पर डीएम ने नाराजगी जताई। उन्होंने दोनों को नोटिस जारी करने का निर्देश दिया। साथ ही जल्द निर्माण पूरा कर भवन हैंडओवर करने के निर्देश दिए। जिला अस्पताल में नवनिर्मित भवन का निर्माण गुणत्तापूर्ण ढंग से कराने पर जोर दिया। ईको टूरिज्म के रूप में विकसित किए जा रहे राजदरी, देवदरी में कई कार्य अभी अधूरे हैं। कमालपुर में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की बाउंड्रीवाल का काम पूरा नहीं हुआ। राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय नौगढ़ में आवासीय भवन के निर्माण की रफ्तार धीमी है। डीएम ने कहा कि मानक की अनदेखी नहीं होनी चाहिए। सकलडीहा तहसील में निर्माणाधीन अग्निशमन केंद्र का निर्माण कार्य भी धीमी गति से चल रहा है। डीएम ने समय से काम पूरा कराने के निर्देश दिए। बोले, जरूरत के अनुसार राजगीर व मजदूरों की संख्या बढ़ाकर जल्द काम पूरा कराएं। सीडीओ अजितेंद्र नारायण, सीएमओ डा. वीपी द्विवेदी, डीआइओएस डाक्टर विनोद राय, सीवीओ डा. एसपी पांडेय, बीएसए भोलेंद्र प्रताप सिंह समेत कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप