जागरण संवाददाता, चंदौली : कभी नक्सलियों की आहट से गूंजने वाली वनांचल की वादियों में गणतंत्र दिवस परेड के दौरान रंगरूटों के बूटों की आवाज सुनाई देगी। इस बार गणतंत्र दिवस की परेड विकास से अछूते नक्सल प्रभावित नौगढ़ इलाके में होगी। पुलिस महकमा जोर-शोर से इसकी तैयारी में जुटा है। नौगढ़ के भेड़ा फार्म में रंगरूट रिहर्सल कर रहे हैं। आयोजन को भव्य बनाने की भरपूर कोशिश की जा रही है।

90 के दशक में नौगढ़ इलाका नक्सलवाद की आग में झुलस चुका है। इसका दंश झेल चुके स्थानीय लोगों ने परिवर्तन की उम्मीद ही छोड़ दी थी। लेकिन सुरक्षा एजेंसियों की सतर्कता और नक्सली संगठनों की आपसी खींचतान के चलते नक्सलवाद की आग मद्धम पड़ी तो भय में जी रहे लोगों में हौसला भरने की पहल हुई। हालांकि गत एक दशक से जिले में कोई नक्सली वारदात नहीं हुई। लेकिन पड़ोसी जनपद मीरजापुर व सोनभद्र में नक्सलियों की आहट सुनाई देने पर महकमा अलर्ट हो जाता है। पुलिस प्रशासन विकास से दूर वनवासियों को मुख्यधारा से जोड़ने की कवायद में जुटा है। कम्युनिटी पुलिसिग के तहत क्षेत्र के युवाओं को तरह-तरह के लघु व सूक्ष्म उद्योग का प्रशिक्षण देकर हुनरमंद बनाने की पहल की गई। प्रशिक्षित युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के साथ ही योग्यता के आधार पर निजी कंपनियों में नौकरी भी दिलाई गई। नक्सल प्रभावित इलाके में परेड को पुलिस की इसी कवायद से जोड़कर देखा जा रहा है। इसके लिए महकमा व्यापक स्तर पर तैयारियों में जुटा है। भेड़ा फार्म में रोज सुबह व शाम के वक्त रंगरूट परेड की रिहर्सल कर रहे हैं। पुलिस लाइन से परेड के लिए जरूरी साजो-सामान व असलहा आदि पहुंचाए जा रहे हैं। ताकि कार्यक्रम में किसी तरह की कमी न रहने पाए।

----------------------------

गरीब की आंखों की लौट रही रोशनी

पुलिस की पहल पर वाराणसी स्थित निजी अस्पताल के चिकित्सकों की ओर से नौगढ़ इलाके में हर माह नियमित तौर पर शिविर का आयोजन कर गरीब वनवासियों की आंखों की जांच की जाती है। गरीबों की आंखों में मोतियाबिद समेत अन्य बीमारियों का मुफ्त इलाज किया जाता है। इससे गरीबों के आंखों की खोई रोशनी लौट रही है।

---------

वर्जन :

इस बार गणतंत्र दिवस परेड नौगढ़ इलाके में कराई जाएगी। इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। रंगरूटों से परेड की रिहर्सल कराई जा रही। साथ ही जरूरी साजो-सामान परेड स्थल पर पहुंचाए जा रहे हैं। परेड में उच्चाधिकारियों के साथ ही संभ्रांतजनों को भी आमंत्रित किया जाएगा।

प्रेमचंद, एएसपी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस