जासं, टांडाकला (चंदौली) : वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर भले ही स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा हो, लेकिन गंगा नदी के किनारे स्थित घाट कूड़े के ढेर में तब्दील हो गए हैं। इतना ही नहीं मां खटवारी देवी मंदिर के चारों तरफ गंदगी होने से श्रद्धालु परेशान हैं।

स्थानीय कस्बा के लोग दुकान व घरों की सफाई कर कूड़ा गंगा घाट के किनारे फेंक देते हैं। इससे बराबर दुर्गध उठती रहती है। वहीं लोगों के घरों का गंदा पानी भी वर्षो से गंगा नदी में प्रवाहित हो रहा है। इससे गंगा जल की निर्मलता भी प्रभावित हो रही है। लोगों का कहना है कि यदि गंगा के जल को स्वच्छ रखना है तो गंदे पानी व कूड़े की ठोस व्यवस्था करनी होगी। वहीं मां खटवारी मंदिर में पूजा-अर्चना करने वाले श्रद्धालुओं को गंदगी का सामना करना पड़ रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस