जागरण संवाददाता, कमालपुर (चंदौली) : धीना थाना के बरहन गांव निवासी किसान इंद्रदेव यादव (62) बुधवार की शाम अगहरबीर नदी में डूब गए। वे खेत की रखवाली कर लौट रहे थे। नदी पार करते समय पानी के बहाव में बह गए और गहरे पानी में समा गए। सूचना के बाद पहुंचे लोगों ने रात के वक्त नदी में उनकी काफी खोजबीन की, लेकिन कुछ पता नहीं चला। सूचना के बाद गुरुवार की सुबह पहुंची पुलिस गोताखोरों की मदद से लापता किसान का पता लगा रही। स्वजन अनहोनी की आशंका से सशंकित रहे।

अगहरबीर नदी के पास इंद्रदेव का खेत है। बुधवार की देर शाम खेत की रखवाली करने के बाद पहले से काट कर रखा गया बांस लेकर वापस घर लौट रहे थे। नदी पार कर गांव जाना था। नदी में पानी के तेज बहाव को न झेल पाने की वजह से बह गए। देखते ही देखते गहरे पानी में समा गए। आसपास मौजूद लोगों ने तत्काल इसकी सूचना गांव के लोगों को दी। ग्रामीणों ने रात के वक्त नदी में लापता किसान की काफी तलाश की, लेकिन कहीं पता नहीं चला। बांस कुछ दूरी पर पानी में उतराया मिला। गुरुवार की सुबह ग्रामीणों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने पहले तो ग्रामीणों की मदद से पता लगाने की कोशिश की, लेकिन दोपहर तक सफलता नहीं मिली तो गोताखोरों को बुलाया गया। गोताखोरों की टीम नदी में खाक छानती रही। लापता किसान का कुछ पता नहीं चल सका। उधर सैयदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू भी घटना की जानकारी होने के बाद घटना स्थल पर पहुंच गए। उन्होंने स्वजनों को ढांढस बंधाया। मृतक को एक पुत्र राजेश है। पत्नी बासमती व परिवार के अन्य लोग घटना से सदमे में नजर आए। अनहोनी की आशंका से ग्रसित दिखे। जैसे-जैसे वक्त गुजरता रहा, उनकी उम्मीदें भी टूटती दिखीं।

Edited By: Jagran