जासं, पड़ाव (चंदौली) : मीटर की एमआरआइ के जरिए बुधवार को बिजली चोरी का पर्दाफाश किये जाने से खलबली मच गई। बिजलेंस की टीम व बिजली विभाग की सयुंक्त छापेमारी में डाडी स्थित मस्तनगर कालोनी स्थित एक ग्लास फैक्टरी में बिजली चोरी पकड़ी गई। विभाग ने 36 एचपी की चोरी करते हुए पकड़ा। फैक्टरी मालिक मीटर टेंपर करके चोरी कर रहा था। विभाग ने फैक्टरी मालिक से सात लाख बीस हजार रुपये शमन शुल्क के रुप में वसूल किया।

बिजली विभाग को क्षेत्र में लगे मीटर की एमआरआइ के दौरान उक्त फैक्टरी के विद्युत खपत में गड़बड़ी की सूचना मिली। बुधवार को अधिशासी अभियंता प्रवीण कुमार सिंह, प्रभारी निरीक्षक विजिलेंस संजय सिंह, अधिशासी अभियंता विद्युत पारेषण खंड सेवाराम, अधिशासी अभियंता आशीष सिंह सहित अन्य अधीनस्थ अधिकारियों की टीम ने फैक्टरी में छापेमारी की।अचानक कार्रवाई से कर्मचारियों को कुछ भी करने का समय नहीं मिल सका। कर्मचारियों ने जब मीटर की जांच की तो वे सन्न रह गए। 36 एचपी (हार्सपावर)की बिजली चोरी का मामला सामने आया। हालांकि फैक्टरी मालिक ने कानूनी झमेले में पड़ने के बजाय शमन शुल्क भर कर जान बचाई। उपखंड अधिकारी कमर फारुक, जेई विकास गुप्ता सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप