जासं, बबुरी (चंदौली): नदियों का जलस्तर घटते ही मगरमच्छ गांव के तालाबों की ओर बसेरा बनाने लगे हैं। बुधवार की सुबह डवक ग्राम सभा अंतर्गत उसरापर गांव के पास मगरमच्छ देखे जाने से हड़कंप मच गया। वनकर्मियों ने अथक प्रयास कर मगरमच्छ को देर शाम जाल लगाकर पकड़ लिया।

डवक निवासी खड़िया बियार के मकान के पास साढ़े पांच फीट लंबा मगरमच्छ धूप ले रहा था जिसे देख कर परिजनों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर शराबा से मगरमच्छ ने समीप स्थित मंगला राय के तालाब में छलांग लगा दी। तालाब में मगरमच्छ के छलांग लगाने की सूचना पर कई गांवों के लोग तालाब के किनारे पहुंच गए। सूचना वन विभाग को दी गई, वन दारोगा आरके ¨सह दलबल के साथ पहुंच गए। जाल लगाकर मगरमच्छ को ढूंढ़ना शुरू हुआ। घंटों मशक्कत के बाद जाल में फंस गया। तालाबों में मगरमच्छ आने से गांव के लोग दहशत में हैं। वन दरोगा आरके ¨सह ने बताया विभाग के पास मगरमच्छ पकड़ने का वैसे तो कोई संसाधन नहीं है लेकिन सुरक्षा की ²ष्टि से वन कर्मियों ने जोखिम उठाया और सफलता हाथ लगी।

Posted By: Jagran