जासं, चकिया (चंदौली) : कोरोना योद्धाओं को सम्मानित करने का दौर जारी है। मंगलवार को स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर कोरोना योद्धा डा. अरुण प्रकाश द्विवेदी के सेवानिवृत्त होने पर स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। वहीं कोतवाली में अपर पुलिस अधीक्षक ने कोरोना योद्धा हेड कांस्टेबल चंद्रभान के सेवानिवृत्त होने पर माल्यार्पण कर सम्मानित किया।

प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. सुजीत सिंह ने कहा सरकारी सेवा काल में घर के साथ ही रिश्तेदारों को भी कर्मी पर्याप्त समय नहीं दे पाते। लेकिन यही कर्मी समाज के लिए भरपूर समय प्रदान करते हैं। चिकित्सक डा. अरुण प्रकाश द्विवेदी बीते एक दशक से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शिकारगंज पर अपनी सेवा दे रहे थे। कोरोना संक्रमण काल में हॉटस्पॉट घोषित होने वाले गांव में पहुंचकर लोगों को संक्रमण के प्रति सावधान करने के साथ ही मरीजों की हौसला अफजाई करते हुए उन्हें स्वस्थ होने का भरोसा दिलाते रहे। बीते तीन वर्षों से कोतवाली में तैनात हेड कांस्टेबल चंद्रभान के सेवानिवृत्त होने पर साथी कर्मियों सहित अधिकारियों ने उन्हें भावभीनी विदाई दी। अपर पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार ने कहा पुलिस की सर्विस में रहने वाले व्यक्ति को अवकाश बहुत कम मिल पाता है। मूल निवास स्थान से अधिक दूरी पर नौकरी करनी पड़ती है। ऐसे में लोग घर परिवार व रिश्तेदारों से कट से जाते हैं। कोरोना संक्रमण काल में सरकारी अधिकारियों कर्मचारियों चिकित्सकों के सेवा को भुलाया नहीं जा सकता। कोरोना के महायोद्धा आदर्श नगर पंचायत के सफाई कर्मी सुदर्शन एवं महिला कर्मी के सेवानिवृत्त होने पर नगर पंचायत सभागार में कार्यक्रम आयोजित किया गया। चेयरमैन अशोक बागी, राजनाथ सिंह, इकराम उल हक, कोतवाल रहमतुल्लाह खान, आंनद मिश्र उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस