जागरण संवाददाता, पीडीडीयू नगर (चंदौली) : कोरोना संक्रमण के भयावह रूप के बावजूद शारीरिक दूरी का पालन मजाक बन गया है। चकिया तिराहे पर लगने वाली दूधमंडी में शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ाई जा रही है। विडंबना यह कि चंद कदम पर भी पुलिस पिकेट है। इसके बावजूद नियम का पालन नहीं हो रहा है। जबकि नगर में कोरोना संक्रमण से प्रतिदिन किसी न किसी परिवार को अपने किसी सदस्य की जिदगी से हाथ धोना पड़ रहा है। इसके बावजूद लोग दो गज की दूरी का पालन नहीं अपना रहे। तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने लाकडाउन कर दिया है। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी कार्रवाई भी कर रहे हैं। पुलिस बार-बार शहर में मुनादी कराकर और शहर का भ्रमण कर लोगों को दो गज दूरी और मास्क लगाने को प्रेरित कर रही। मास्क नहीं लगाने वाले लोगों पर 100 से 500 रुपये तक चालान भी किया जा रहा है। लेकिन नगर के चकिया तिराहे पर लगने वाली दूध मंडी में सुबह 5 से 9 बजे तक न तो शारीरिक दूरी का का पालन होता है और न ही यहां आने वाले अधिकांश लोग मास्क लगाते हैं। मैजिक, पिकअप के माध्यम से विक्रेता दूध लेकर मंडी में पहुंचते हैं। दूध लेने के लिए सुबह ही मंडी में लोगों की भीड़ जमा हो जाती है। नियम का पाठ पढ़ाने वाले पुलिस कर्मी भी बगल में ही ड्यूटी करते हैं। इसके बावजूद इनकी निगाह इन लापरवाह लोगों पर नहीं पड़ती है।