बुलंदशहर, जेएनएन: पुलिस-प्रशासन की तमाम कोशिशों के बाद भी गोकशी की घटनाओं पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। अब थाना क्षेत्र के कुरैना गांव के जंगलों में सावन के अंतिम सोमवार व बकरीद की सुबह गोवंश के अवशेष पड़े मिले। इसे लेकर हिदू संगठन और क्षेत्र के लोगों ने हंगामा किया।

सोमवार सुबह लोग टहलने के लिए निकले तो जहांगीराबाद-औरंगाबाद मार्ग स्थित कुरैना में सड़क किनारे कुछ गोवंशों के अवशेष पड़े मिले। वन विभाग के जंगलों में अवशेषों को देखकर लोगों ने रविवार रात में वध होने का अंदेशा जताया। गोकशी की खबर क्षेत्र में फैली तो लोग इकट्ठा होने शुरू हो गए। हिदू संगठनों ने गोकशों पर कार्रवाई की मांग को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। कई थानों के फोर्स के साथ सीओ अनूपशहर अतुल चौबे मौके पर पहुंचे। पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने पशु चिकित्सक को बुलाकर अवशेषों के नमूने जांच के लिए भिजवाए। बजरंग दल के जिला गोरक्षा प्रमुख यतेंद्र छोटे गहना की तहरीर पर अज्ञात गोकशों के खिलाफ गोवध अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। अंतरराष्ट्रीय हिदू परिषद के प्रांतीय मंत्री मेजर वीरपाल शर्मा ने जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।

फिजा बिगाड़ने की कोशिश

कुरैना गांव के पास सड़क किनारे गोवंशों के अवशेष डालने की घटना से पुलिस अंदाजा लगा रही है कि माहौल बिगाड़ने के लिए अवशेष यहां डाले गए हैं। खुराफातियों को मालूम था कि सुबह के समय लोग मंदिर और बकरीद की नमाज के लिए एक साथ घरों से निकलेंगे। दोनों समुदायों के लोग सड़क पर होंगे तो फिजा बिगड़ सकती है। गोकशी कहीं बाहर करने के बाद अवशेष सड़क किनारे डाले गए हैं।

------

इन्होंने कहा.

मुकदमा दर्ज कर लिया है। गोकशी करने वालों की तलाश में टीम लगा दी है। जल्द गिरफ्तारी कर ली जाएगी। एहतियात के लिए पुलिस तैनात कर दी है।

-अतुल चौबे, सीओ अनूपशहर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप