बुलंदशहर, जेएनएन। लखावटी क्षेत्र के गांव नगला करन में गोशाला और स्कूल का सोमवार को औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में अधिकतर गोवंशों को कमजोर देखकर जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, पशु चिकित्साधिकारी और एडीओ ग्राम पंचायत को स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए। इसके बाद स्कूल के निरीक्षण के दौरान दो शिक्षक के गायब मिलने पर डीएम ने उन्हें निलंबित कर दिया है।

सोमवार को डीएम रविद्र कुमार ने व नगला करन में गोशाला का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान गोशाला में रखे गए गोवंश की ईयर टैगिग न होने पर नाराजगी जताते हुए शीघ्र प्रक्रिया पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया। इसके अलावा गोवंश की हालत खराब देखकर नाराज हुए डीएम ने मौके पर मौजूद अधिकारियों को फटकार लगाई और मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, पशु चिकित्साधिकारी और एडीओ ग्राम पंचायत को स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए। इसके बाद जिलाधिकारी ने गांव नगला करन में उच्च प्राथमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान छह अध्यापकों में से मौके पर दो के उपस्थित मिलने पर उपस्थिति पंजिका का निरीक्षण किया। जिसमें दो अध्यापकों द्वारा बिना किसी अवकाश प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किए ही अवकाश पर जाने और दो महिला अध्यापकों के अवकाश पर होने की जानकारी दी गई। इस संबंध में एबीएसए से फोन पर वार्ता की गई, लेकिन संतोष जनक उत्तर नहीं मिला। जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए एबीएसए की भूमिका संदिग्ध मानते हुए प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश दिए। साथ ही सहायक अध्यापक फकीर मोहम्मद और पराग सिंह को बिना अवकाश प्रार्थना पत्र स्वीकृत किए अवकाश पर होने पर एक दिन का वेतन काटने और स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। इसके अलावा डीएम ने उपस्थिति पंजिका में दो अध्यापकों के बिना अवकाश स्वीकृत होने के बाद भी पंजिका में अवकाश दर्ज किए जाने एवं समय से पूर्व बच्चों की छुट्टी करने पर मुकेश एवं प्रमोद को भी स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस