बुलंदशहर, जेएनएन। मतदान केंद्र और ब्लाक पर नामांकन प्रक्रिया की व्यवस्थाओं का डीएम-एसएसपी ने जायजा लिया। साथ ही कोरोना से बचाव को लेकर नियमों का पालन करने के दिशा निर्देश दिए।

बुधवार को डीएम रविद्र कुमार और एसएसपी भारती सिंह ब्लाक पर पहुंचे। जहां उन्होंने पंचायत चुनाव को निष्पक्ष, शांतिपूर्वक व कोविड संक्रमण से सुरक्षित रखते हुए संपन्न कराये जाने दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि न्याय पंचायत वार निर्धारित खिड़की पर नामांकन पत्र लेने और 17 व 18 अप्रैल को नामांकन दाखिल करने की व्यवस्था की जाए। साथ ही नामांकन दाखिल करने के लिए अपील की जाए कि एक साथ भीड़ एकत्रित ना होने पाए। जिससे कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके और शारीरिक दूरी का पालन किया जाए। साथ ही शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए गोले बनाते हुए समुचित व्यवस्था की गई और नामांकन स्थल पर पर्याप्त पुलिस की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए। इसमें एडीएम सहदेव कुमार मिश्र, एसपी देहात हरेंद्र कुमार, एसडीएम वेदप्रिय आर्य आदि रहे।

बुलंदशहर: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर जिलाधिकारी रविद्र कुमार एवं एसएसपी भारती सिंह ने विकास खंड परिसर स्थित नामांकन पत्र जमा कराए जाने हेतु स्थलीय निरीक्षण किया।

डीएम ने जिला उद्यान अधिकारी एवं खंड विकास अधिकारी का चार्ज संभाले डॉ धीरेंद्र सिंह एवं रिटर्निंग ऑफिसर अजीत पाल सिंह को दिशा निर्देश हुए कहा कि नामांकन जमा कराए जाने के दौरान कोरोना संक्रमण के चलते भीड़-भाड़ नहीं होनी चाहिए। प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर की लिस्ट बनाकर संबंधित लोगों का समय निर्धारित किया जाए। ताकि निर्धारित समय पर लोग नामांकन जमा करने आ सकें। इस कार्य में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। एसएससी भारती सिंह सुरक्षा को लेकर एसपी देहात हरेंद्र सिंह एवं कोतवाली प्रभारी सुभाष सिंह को जरूरी दिशा निर्देश दिए। डीएम एसएसपी के पहुंचने से पूर्व एसपी देहात हरेंद्र सिंह विकास खंड कार्यालय पहुंच गए थे। उस समय कोई पुलिसकर्मी मौजूद दिखाई नहीं दिया। कुछ लोग बगैर मास्क के घूमते दिखाई दिए। उन्होंने कोतवाली प्रभारी से मोबाइल पर बातचीत करते हुए नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि आपके स्टाफ का कोई पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद नहीं है। इस मौके पर एसडीएम वेद प्रिय आर्य तहसीलदार नीरज कुमार द्विवेदी समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran