मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बुलंदशहर, जेएनएन : नगर के मोहल्ला दुर्गापुरम में उपचार में हुई देरी के कारण एक महिला की मंगलवार की रात मौत हो गई थी।

मंगलवार की रात दुर्गापुरम निवासी सोनी कश्यप पत्नी देशराज की तबीयत अचानक खराब हो गई थी। परिजनों ने एंबुलेंस को बुलाया। लेकिन एंबुलेंस सीवर लाइन के गडढे में फंस गई, जिस कारण बीमार महिला को समय से उपचार नहीं मिल सका और उसकी मौत हो गई। घटना से भड़के लोगों ने बुधवार की सुबह सड़क जाम कर जोरदार हंगामा किया। उधर, मामले का संज्ञान लेते हुए डीएम रविद्र कुमार ने प्रकरण की जांच के लिए बुधवार की रात ही टीम गठित कर दी। टीम में नगर मजिस्ट्रेट विवेक कुमार मिश्र अध्यक्ष और अधिशासी अभियन्ता जल निगम को जिम्मेदारी सौंपी। टीम ने गुरुवार को मौके पर जाकर घटना की जांच की और तमाम लोगों के बयान दर्ज किए। जांच के दौरान सामने आया कि सीवर लाइन डाल रही कंपनी एलसी इन्फ्रा प्रोजेक्टस प्रा.लि द्वारा दुर्गापुरम कालोनी में माह जून 2019 से सीवर लाइन बिछाने का कार्य शुरू किया गया, लेकिन कार्य की प्रगति धीमी होने कारण सड़कें टूटी हुई हैं। जांच रिपोर्ट के आधार पर नगर मजिस्ट्रेट द्वारा जल निगम के जूनियर इंजीनियर दर्शन सिंह को थाना कोतवाली नगर में रिपोर्ट दर्ज कराने के निर्देश दिए गए। जूनियर इंजीनियर ने कंपनी के अहमदाबाद के प्रोजेक्ट मैनेजर आसिम जमील पुत्र सरवर और अधिकृत प्रतिनिधि खुंट रसिक भाई पुत्र जेराम भाई के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। डीएम रविद्र कुमार ने बताया कि सीवर लाइन डालने में बरती जा रही लापरवाही बर्दास्त नहीं होगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप