-22 जिलों के अधिवक्ताओं की बुलंदशहर में हुई बैठक

-पश्चिम उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच पर हुआ मंथन

बुलंदशहर, जेएनएन। केंद्रीय संघर्ष समिति पश्चिम उत्तर प्रदेश के 22 जिलों के अधिवक्ताओं की बैठक में प. उप्र में हाईकोर्ट बेंच स्थापना को लेकर मंथन हुआ। निर्णय हुआ कि जल्द ही पश्चिम उत्तर प्रदेश के वकील प्रधानमंत्री कार्यालय व संसद में इस मसले से जुड़ा प्रस्ताव भेजेंगे।

डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन के सभागार में शनिवार को आयोजित बैठक में मुख्य अतिथि बार काउंसिल आफ उत्तर प्रदेश के सदस्य वरिष्ठ अधिवक्ता शिव किशोर गौड़ ने कहा, प. उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की मांग को पूरी कराने का समय नजदीक आ चुका है।

अध्यक्षता करते हुए केंद्रीय संघर्ष समिति प. उत्तर प्रदेश के चेयरमैन एड. मांगेराम ने सभी अधिवक्ताओं से एकजुट होकर लड़ाई जारी रखने की अपील की। सभी जिलों से आए बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने विचार रखे। बताया गया कि जल्द ही पश्चिम के वकीलों का एक दल हाईकोर्ट बेंच का प्रस्ताव लेकर प्रधानमंत्री से मिलेगा।

डिस्ट्रिक्ट बार एसोसिएशन बुलंदशहर के अध्यक्ष नरेंद्र कुमार, महासचिव विकास चौधरी, सिविल बार एसोसिएशन बुलंदशहर के महासचिव नीरज राघव ने मुख्य अतिथि और चेयरमैन का स्वागत किया।

मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर, हापुड़, बागपत, सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा, शाहजहांपुर, पीलीभीत, बदायूं, रामपुर, संभल, अलीगढ़ आदि जिलों के बार एसोसिएशन के अध्यक्ष और महासचिव बैठक में पहुंचे। जिनके अध्यक्ष या महासचिव नहीं पहुंचे, उन्होंने अपने प्रतिनिधि भेजे। बैठक में ये रहे मौजूद

प्रेरणा वर्मा उपाध्यक्ष मेरठ, संजय शंकर शर्मा मेरठ, बिजेंद्र सिंह तोमर अध्यक्ष बागपत, केपी सिंह पूर्व डीजीसी बागपत, संजीव चौहान कैराना, दिनेश चौहान कैराना, प्रदीप मलिक महासचिव मुजफ्फरनगर, खड़क सिंह चौहान पूर्व अध्यक्ष शामली, संजय शर्मा मेरठ, देवकीनंदन शर्मा मेरठ, सुदेश शर्मा मेरठ, सरनाम सिंह महासचिव अलीगढ़, नपेंद्र सिंह कोषाध्यक्ष बिजनौर, मांगेराम मेरठ, राजन कुमार शर्मा गौतमबुद्धनगर आदि।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस