रामपुर (जेएनएन)। छात्रा से दुष्कर्म के प्रयास में आरोपी शिक्षक को पंचायत में सरेआम मुर्गा बनाया गया और फिर छात्रा ने उसे 20 थप्पड़ जड़े। पंचायत के इस फरमान के बाद दोनों पक्षों में समझौता करा दिया गया। मामला पुलिस की जानकारी में है पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। 12 साल की पीडि़ता दढिय़ाल क्षेत्र के एक इंटर कॉलेज में कक्षा छह की छात्रा है। आठ जुलाई को वह भाई के साथ साइकिल से स्कूल गई थी। आरोपी शिक्षक छात्रा के ही गांव का है। छुट्टी के बाद घर लौटते समय शिक्षक रास्ते में मिल गया। उसने छात्रा को घर छोडऩे की बात कहते हुए उसके भाई को गांव भेज दिया। इसके बाद गन्ने के खेत में ले जाकर दुष्कर्म का प्रयास किया लेकिन शोर मचाने पर छात्रा को छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें: रामविलास वेदांती ने आजम खां को बताया आतंकियों का सरगना

पीडि़ता ने घर जाकर मां को घटना बताई।  परिजनों ने चौकी में तहरीर दी, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। सोमवार को परिजन फिर चौकी गए। पुलिस ने आरोपी के घर रात में दबिश दी, लेकिन वह नहीं मिला। मंगलवार सुबह गांव में हुई पंचायत ने आरोपी को मुर्गा बनाकर छात्रा से 20 थप्पड़ लगवाने का फरमान सुनाया। पंचायत में प्रधानाचार्य श्रीपाल चौहान, प्रधानपति योगेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे। बाद में पंचायत का यह फैसला चौकी पुलिस को बता दिया गया। चौकी प्रभारी विनोद मिश्रा का कहना है कि दोनों पक्ष में फैसला होने के बाद तहरीर वापस ले ली गई। 

यह भी पढ़ें:अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले के बाद नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट

Posted By: Nawal Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस