बुलंदशहर, जेएनएन। दिल्ली में सीएए के विरोध में चल रहे उपद्रव में सोमवार की शाम को दानपुर क्षेत्र के भीमपुर दोराहे निवासी शाहिद पुत्र अल्लहमहर की गोली लगने से मौत हो गई। जैसे ही इस घटना का पता परिजनों को लगा, तो घर में कोहराम मच गया।

शाहिद पांच भाई बहनों में सबसे छोटा था। उसकी तीन माह पहले ही बुलंदशहर के रायपुर गांव से शादी हुई थीं। वह दिल्ली में रहकर टेंपू चलाकर अपने परिवार का पालन कर रहा था। शाहिद दो सप्ताह पहले ही गांव घूमकर गया था और हर दिन अपने परिवार से फोन पर बात करता था। सोमवार की सुबह भी उसकी अपने परिजनों से बातचीत हुई थी लेकिन देर शाम परिजनों को उसके घायल होने की सूचना मिली। जिसके बाद परिजन दिल्ली पहुंचे तो पता चला कि गोली लगने से उसकी मौत हो चुकी है। फिलहाल परिजन शव आने का इंतजार कर रहे है। बताया गया अभी मृतक के दिल्ली में पोस्टमार्टम हो रहा है। घटना के बाद घर पर ग्रामीणों की भीड़ लगी है। अभी घटना के बारे में पुरी जानकारी सामने नहीं आ पाई है कि यह उपद्रव में शामिल था या फिर किसी और वजह से वहां उपलब्‍ध था। उधर एहतियात के तौर पर डिबाई खुर्जा आदि थानों की पुलिस भी मौके पर तैनात कर दी गई है और डीएम एसएसपी भी नजर रखे हुए हैं।

घटना को देखते हुए शहर में सर्तकता

दिल्‍ली में भारी विरोध और उपद्रव को देखते हुए शहर की पुलिस ने सभी जगह पर सर्तकता बरते हुए है। हर गली चौराहे में पुलिसबल की तैनाती की गई है। किसी तरह का उपद्रव न हो इसके लिए पुलिस विभाग पूरी तैयारी में जूट गया है। साथ ही शहर में हर संदिग्‍ध स्‍थलों पर नजर बनाए हुए है।  

Posted By: Prem Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस