जेएनएन, बुलंदशहर:

कोरोना संक्रमण के तेजी से प्रसार के बाद भी लोग समझने को तैयार नहीं है। हालात दिनों-दिन गंभीर होते जा रहे हैं। हालात यह है कि शहर में वाहनों की आवागमन आम दिनों की तरह होता जा रहा है, बावजूद इसके पुलिस बेफिक्र है। शनिवार को हालात यह रहे हैं कि बुलंदशहर-स्याना मार्ग पर घंटों तक जाम लगा रहा है। यह हालात तब है जब यहां डिप्टीगंज चौकी भी है। पूरे दिन यहां वाहनों का तांता लगा रहता है लेकिन इसे रोकने का प्रयास किसी भी स्तर पर नहीं किया जा रहा है। इससे कोरोना संक्रमण को कैसे रोका जाएगा, यह सवाल पैदा हो गया है।

शहर में कोरोना लाकडाउन के दौरान एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने पूरी सख्ती बरतने का आदेश दिया। वह खुद सुबह शहर का दौरा कर स्थिति का जायजा ले रहे हैं। बावजूद इसके पुलिसकर्मी सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैँ। हालात यह है कि पूरे दिन शहर में वाहनों का आवागमन बढ़ता जा रहा है। इसे देखकर नहीं लगता कि शहर में कोरोना लाकडाउन है। शनिवार को बुलंदशहर डिप्टीगंज स्याना रोड पर हालात बेहद खराब हो गए। यहां वाहनों का आवागमन आम दिनों जैसा रहा। वाहनों की संख्या देखकर नहीं लगा कि शहर में लाकडाउन है। गंभीर बात यह है कि डिप्टीगंज चौकी चौराहे पर वाहनों का काफी देर तक जाम लगा रहा। इस दौरान न तो कोई पुलिस कर्मी दिखायी दिया और न ही अधिकारी। घंटों भीड़ में वाहन फंसे रहे और लोग यहां बिना मास्क घूमते दिखायी दिए। लाकडाउन के बीच यह भीड़ व पुलिस की उदासीनता हालात खराब कर देगी, यह तय है।