जेएनएन, बुलंदशहर। खुर्जा नगर में कई स्थानों पर डेयरी संचालकों द्वारा नालियों में गोबर बहाया जा रहा है। इससे जहां नालियां जाम हो रही हैं, वहीं स्वच्छता अभियान को भी पलीता लग रहा है। नगरपालिका ने नालियों में गोबर बहाने वालों को नोटिस भी दिए गए, लेकिन डेयरी संचालकों पर कोई असर नहीं पड़ा। ऐसे में अब पालिका द्वारा जुर्माना वसूलने की कार्रवाई आगामी दिनों में की जाएगी।

खुर्जा के मोहल्ला तरीनान, सराय अल्लो, पदम की पुलिया, मोहल्ला मुरारीनगर आदि स्थानों पर पशुओं के तबेले स्थित हैं। जिनसे मोहल्लों में गंदगी का आलम बन रहा है। हैरान करने वाली बात यह भी है कि तबेलों में विद्युत चोरी के मामले भी सामने आ चुके हैं। साथ ही प्रतिदिन हजारों लीटर पीने का पानी बर्बाद होता है और गोबर को नाले-नालियों में बहाया जाता है। स्थानीय लोगों ने अधिकारियों से कई बार शिकायतें भी की हैं, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो सका है। ऐसे में ये तबेले और डेयरियां एक तरफ जहां शहर को गंदा कर रही हैं। वहीं इनसे बीमारियां फैलने का खतरा भी लगातार बना हुआ है। उधर नगरपालिका प्रशासन द्वारा भी ऐसे गोबर बहाने वालों को नोटिस दिए जा चुके हैं और उनके साथ बैठक भी की जा चुकी है, लेकिन उसके बावजूद भी कोई सुधार दिखाई नहीं दे रहा है।

इस संबंध में सफाई इंस्पेक्टर रोबिन कुमार कहना है कि नाले में गोबर बहाने वालों को पूर्व में नोटिस जारी किए जा चुके हैं और वर्तमान में ऐसे लोगों को चिह्नित करने का कार्य किया जा रहा है। अगर कोई नाली में गोबर बहाता मिलता है, तो उससे जुर्माना वसूला जाएगा।

मिर्जापुर नगली के ग्रामीण जलभराव से परेशान

ऊंचागांव क्षेत्र के गांव मिर्जापुर नगली के मुख्य मार्ग पर जलभराव होने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। ग्रामीणों का आरोप है कि ब्लाक अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई लेकिन जलभराव की समस्या से निजात नहीं मिल पाई है।

गांव मिर्जापुर नगली में प्याना मार्ग पर गंदे पानी की निकासी न होने के कारण पिछले आठ माह से पानी भरा हुआ है। गंदगी और जलभराव के कारण ग्रामीणों का घर से निकलना दूभर हो गया और लोग नरक की जिदगी जीने के लिए मजबूर हो रहे है। ग्रामीणों ने बताया कि महिला और बच्चों को घर से बहार जाने के लिए रास्ते पर भरे गंदे पानी से गुजरना पड़ता है। ग्रामीणों ने जलभराव की समस्या से छुटकारा पाने के लिए मुख्यमंत्री पोर्टल और ब्लाक अधिकारियों को कई बार शिकायत दर्ज कराई है लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप