बुलंदशहर, जेएनएन: मंगलवार को तहसील सभागार में डीएम की अध्यक्षता मे आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में विभिन्न विभागों की समस्याओं को सुनकर निस्तारण करने के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिए। इस मौके पर कुल 177 शिकायतों में से मौके पर 24 का निस्तारण किया गया।

संपूर्ण समाधान दिवस में जहांगीराबाद से बहुतायत संख्या में आए सभासदों ने पालिका अध्यक्ष पर वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाकर जांच कराने की मांग की। क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष ज्ञानेंद्र राघव ने जटवाई से डिबाई दोराहे तक विश्व बैंक के सहयोग से 171 करोड़ से बन रही सड़क में घटिया सामग्री का प्रयोग करने की शिकायत कर जांच की मांग की। कई किसानों की खतौनियों में काफी समय से चली आ रही त्रुटियों को तत्काल निस्तारित करने के निर्देश दिए। पालिका चेयरमैन गोपाल शर्मा ने पीएम आवास योजना में अपात्रों को पालिका से बिना नक्शा स्वीकृत कराए आवास बनवाने, तथा सीवर लाइन में अत्यंत घटिया सामग्री का प्रयोग करने के कारण सड़कों की हालत खराब होने की शिकायत की। डीएम ने सीवर लाइन का कार्य देख रहे जल निगम के जेई को बुलाकर घटिया सामग्री का प्रयोग करने की शिकायत पर कड़ी फटकार लगाते हुए वर्षा से पहले नगर की सड़कों को सील करने तथा प्रत्येक वार्ड की प्रगति रिपोर्ट देने का निर्देश दिया। डीएम ने वृद्ध जनों, शिकायतकर्ताओं, दिव्यांगों के प्रति काफी नरम रुख अपनाया जबकि अधिकारियों के प्रति सख्त रवैया रहा। इस मौके पर पेंशन बनाने, दिव्यांग प्रमाण पत्र बनवाने की प्रक्रिया पूर्ण कराई गई। कार्यक्रम में एसएसपी एन. कोलांचि, सीएमओ डा. दीपक त्रिपाठी, एसडीएम सुरेश कुमार सोनी, तहसीलदार शिवओतार, सीओ अतुल कुमार चौबे सहित जनपद स्तर के अधिकारी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप