जेएनएन, बुलंदशहर। सिकंदराबाद के जीतगढ़ी में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत होने पर मृतक आश्रितों को केंद्र और राज्य सरकार की करीब चार योजनाओं का लाभ दिलाने की कवायद जिलाधिकारी के आदेश पर शुरू हो गई है। मृतक आश्रितों को किसान दुर्घटना बीमा योजना में पांच लाख और पारिवारिक लाभ के अंतर्गत 30 हजार रुपये की आर्थिक मदद की जाएगी। इसके लिए अनुमोदन भेज दिया गया है।

किसान दुर्घटना बीमा योजना के अंतर्गत 18 से 70 वर्षीय उम्र के किसान को योजना के अंतर्गत मृतक आश्रितों को लाभ दिए जाने का प्रावधान है। नियमानुसार 45 दिनों के अंतराल में इस योजना का लाभ दिया जाता है लेकिन जिला प्रशासन की कवायद के चलते 20 जनवरी तक पीड़ितों को लाभ दिलाया जाएगा। इसके साथ ही राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के अंतर्गत 18 से 60 वर्षीय किसान जो परिवार के लिए कमाऊ मुखिया की मृत्यु के पश्चात आश्रितों को 30 हजार रुपये का लाभ दिया जाता है। चार मृतक किसान दुघर्टना के पात्र

जहरीली शराब पीने से हुई छह लोगों की मौत में चार लोगों को किसान दुर्घटना बीमा योजना के अंतर्गत पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता मिलेगी। हालांकि दो की आयु और पात्रता इस योजना के मानक पूर्ण नहीं कर रही है। ऐसे में जिला प्रशासन गोपनीय तरीके से इन्हें अन्य योजनाओं और मदों से आर्थिक सहायता करने के लिए तैयारी में जुटा है।

जीतगढ़ी में आज मृतक आश्रितों से मिलेगी सपाइयों की टीम

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर सोमवार को 13 सदस्यीय टीम जीतगढ़ी गांव पहुंचेगी। टीम में सदस्य विधान परिषद राकेश यादव व जितेंद्र यादव, जिलाध्यक्ष अमजद गुड्डू, राहुल यादव, राजकुमार भुर्जी, हरिशचंद्र प्रजापति, फकीर चंद्र नागर, महेश आर्या, राजीव लोधी, दिनेश गुर्जर, अब्दुल रब, सुजात आलम और पूर्व जिला महासचिव बादल यादव मौजूद रहेंगे। टीम जीतगढ़ी के मृतक आश्रितों का हाल और राज्य सरकार द्वारा उठाए गए कदम तथा इनके दर्द को प्रदेश अध्यक्ष को रिपोर्ट बनाकर भेजेंगे। जहां से यह रिपोर्ट पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव तक पहुंचेगी। सपाइयों ने मृतक आश्रितों की आर्थिक मदद

सिकंदराबाद विधानसभा सीट के बसपा से पूर्व प्रत्याशी और हाल ही में समाजवादी पार्टी ने एडवोकेट सलीम अख्तर दर्जनों कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे। जहां उन्होंने छह मृतक आश्रितों को 10-10 हजार रुपये तथा अस्पताल में भर्ती 21 लोगों के परिजनों को पांच-पांच हजार रुपये की आर्थिक सहायता की। इस दौरान चौधरी मशहूर अली, धर्म सिंह ठेकेदार, जर्नल गाजी, अजय पाल जाटव, अनवर अधेल, विकास अधाना, नौशाद अली, अलीजान सैफी, अमर सिंह, गजराज सिंह गौतम आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran