बुलंदशहर, जेएनएन। विवादित जमीन पर कोर्ट का स्टे लाने के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। ग्रामीणों ने खुर्जा देहात पुलिस पर आरोपितों से सांठगांठ करने का आरोप लगाते हुए उनकी शह पर निर्माण कराने की शिकायत एसएसपी से की है।

खुर्जा देहात के गांव हजरतपुर निवासी चमन सोलंकी व अन्य लोगों ने एसएसपी को शनिवार को शिकायती पत्र दिया। उन्होंने बताया कि हाईवे से गांव में जाने के लिए गांव के दरवाजा से आम रास्ता है। जिस पर ग्रामीणों को करीब 50 वर्ष से आवागमन है। पूर्व में उक्त रास्ते पर भूमाफिया ने कब्जे का प्रयास किया था। जिस पर गांव निवासी आरोपित पक्ष ने सिविल जज खुर्जा के न्यायालय में याचिका दाखिल की थी।

जिस पर कोर्ट ने 18 नवंबर-21 को उक्त स्थान को यथा स्थिति रखने का आदेश करते हुए स्टे कर दिया था। आरोप है कि आरोपित पक्ष जिसने कोर्ट में याचिका दाखिल की थी उसने ही खुर्जा देहात पुलिस से सांठगांठ कर उक्त जमीन पर अवैध रुप से दीवार लगानी शुरू कर दी। यह वाक्या गत सात जनवरी का है। गांव वालों ने जब इसका विरोध किया और खुर्जा थाना प्रभारी को स्टे की कापी दिखाई तो थाना प्रभारी ने वह आदेश की कापी भी फाड़ डाली और अवैध रुप से दीवार का निर्माण करा दिया। ग्रामीणों को धमकाया जा रहा है। पीड़ित की शिकायत पर एसएसपी ने मामले में जांच कराकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। स्याना में भंडार का आयोजन

बुलंदशहर, जेएनएन। स्याना में मकर संक्रांति पर्व पर शनिवार को भी नगर में अलग-अलग स्थानों पर भंडारों का आयोजन किया गया। नगर में सुबह से ही दूसरे दिन भी मेन बाजार, बुगरासी बस स्टैंड, नई सड़क मार्ग व हापुड़ बस स्टैंड पर खिचड़ी के भंडारे आयोजित किए गए। दिनभर धर्म प्रेमी व समाजसेवियों ने खिचड़ी बांटकर धर्म लाभ उठाया। जबकि कुछ स्थानों पर गरीब लोगों को ऊनी कंबल व अन्य सामग्री का भी वितरण किया।

वहीं, नगर स्थित सर्राफा बाजार में दूसरे दिन भी भंडारे का आयोजन किया गया। भंडारे में सुबह से ही छोले-चावल, चाय व बिस्कुट आदि का वितरण किया गया। भंडारा में देर शाम तक लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। पंडित मंटू शास्त्री ने बताया कि इस बार मकर सक्रांति का पर्व दो दिन मनाया गया है। दोनों दिन लोगों ने भंडारे व दान-पुण्य कर पर्व मनाया है। इस दौरान काजल वर्मा, नितिन सिघल, पुष्पेंद्र लोधी, नैना वर्मा, शाहिद खान, गोपी वमर, पप्पू शर्मा, मनोज कुमार व नरेश लोधी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran