जेएनएन, बुलंदशहर : दादरी गेट पुलिस चौकी से चंद कदम दूर स्थित सिनेमाहाल मालिक के घर में दो नकाबपोश बदमाशों ने धावा बोल दिया और लाखों की लूटपाट की। विरोध करने पर उनकी गर्भवती पुत्रवधू को चाकू मारकर घायल कर दिया और भाग गए। पुलिस ने लूट के बजाए घटना चोरी में दर्ज की है।

दादरी गेट पुलिस चौकी से कुछ दूरी पर पार्वती सिनेमाहाल है। जिसके मालिक जयप्रकाश सैनी पास में ही स्वजन के साथ रहते हैं। जयप्रकाश सैनी ने बताया कि मंगलवार को वह अपने बेटे ललित के साथ काम के सिलसिले में बाहर गए थे। घर पर उनकी पत्नी इंद्रा सैनी और गर्भवती पुत्रवधू अंजलि थीं। शाम को नकाबपोश दो बदमाश घर में घुस गए और एक कमरे में रखी सेफ से सामान निकालने लगे। आहट सुनकर अंजलि कमरे में पहुंच गई। शोर मचाने पर बदमाशों ने उसे धक्का देकर गिरा दिया और हत्या के इरादे से चाकू से कंधे पर वार कर दिया। लहूलुहान नीचे गिरी अंजलि के ऊपर से बदमाश भाग गए। शोर सुनकर उनकी पत्नी इंद्रा मौके पर पहुंची और मदद के लिए चिल्लाई। स्थानीय लोगों की मदद से अंजलि को एक निजी अस्प्ताल में भर्ती कराया। जानकारी मिलने पर वह पुत्र के साथ मौके पर पहुंचे तो देखा सेफ का सामान बिखरा पड़ा था। पीड़ित ने बताया कि बदमाश कितनी नगदी और जेवरात ले गए, इसका आंकलन किया जा रहा है।

बदमाशों ने बांध रखा था गमछा

सिनेमाहाल मालिक ने बताया कि पूछताछ में पुत्रवधू ने बताया कि दोनों बदमाशों ने मुंह पर गमछा बांध रखा था। जब वह नीचे गिरी, तो एक ने कहा था मार दे। दूसरे ने हड़बड़ाहट में कंधे पर चाकू से वार कर दिया। शोर सुनकर बदमाश उसे घायल अवस्था में छोड़कर भाग गए। लूट की वारदात चोरी में दर्ज

बदमाशों पर अंकुश लगाने के बजाए पुलिस धाराओं में खेल कर रही है। गत सप्ताह हरिशाह मोहल्ले से बदमाश दिव्यांग महिला से लाखों के जेवरात व नगदी लूटकर ले गए थे। पुलिस ने चार दिन बाद बदमाशों को पकड़कर डेढ दर्जन से अधिक घटनाओं का राजफाश किया था, लेकिन पुलिस ने लूट के बजाए चोरी में मुकदमा दर्ज किया था। दो दिन पूर्व हाईवे पर सर्राफ के कर्मचारियों से हुई सवा तीन लाख व 25 ग्राम सोना लूट की वारदात का भी पुलिस ने चोरी में दर्ज किया है। अब सिनेमाहाल मालिक के घर भी हुई वारदात का मुकदमा भी पुलिस ने चोरी में दर्ज किया है।

इनका कहना है..

तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज की है। पीड़ित ने अभी यह जानकारी नहीं दी है कि कितनी नगदी व जेवर गए हैं। कमरे में घुसना और अलमारी से सामान निकालकर ले जाना संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। जांच की जा रही है।

-जयकरन सिंह, इंस्पेक्टर, सिकंदराबाद।

Edited By: Jagran